अभी और करना होगा पानी को इंतजार

By: Rajeev Pachauri

Published On:
Sep, 12 2018 05:24 PM IST

  • गंगापुरसिटी . चम्बल के पानी से गंगापुरसिटी की प्यास बुझाने का वादा अभी आधा-अधूरा ही है। गंगापुरसिटी दौरे पर पहुंचीं सीएम को विधायक ने सूखे कंठों के हालात बयां किए तो सीएम वसुंधरा राजे आनन-फानन में मंडरायल पहुंचीं और हर सूरत में पानी पहुंचाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इसके बाद काम में तेजी आई और टेस्टिंग कर पानी छोड़ दिया गया, लेकिन चम्बल का यह पानी शहर की चंद कॉलोनियों तक ही पहुंच पा रहा है। पूरे शहर को पानी के लिए अभी लंबा इंतजार करना होगा।

गंगापुरसिटी . चम्बल के पानी से गंगापुरसिटी की प्यास बुझाने का वादा अभी आधा-अधूरा ही है। गंगापुरसिटी दौरे पर पहुंचीं सीएम को विधायक ने सूखे कंठों के हालात बयां किए तो सीएम वसुंधरा राजे आनन-फानन में मंडरायल पहुंचीं और हर सूरत में पानी पहुंचाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इसके बाद काम में तेजी आई और टेस्टिंग कर पानी छोड़ दिया गया, लेकिन चम्बल का यह पानी शहर की चंद कॉलोनियों तक ही पहुंच पा रहा है। पूरे शहर को पानी के लिए अभी लंबा इंतजार करना होगा।


मंडरायल क्षेत्र के साथ नादौती होते हुए गंगापुसिटी को पानी देने के लिए चम्बल नदी से लाइन डाली गई है। यूं तो इसका पानी मार्च तक लोगों को मिलना था, लेकिन परियोजना में खासी देरी हुई और यह पानी समय पर नहीं पहुंच सका। बाद में मुखिया के दखल के बाद इसकी रफ्तार बढ़ी और गंगापुरसिटी तक पानी पहुंचा दिया गया, लेकिन अभी शहर के लिहाज से यह पानी ऊंट के मुंह के जीरे के समान ही है। पूरे शहर को अभी चम्बल का पानी नसीब नहीं हो सका है। यही हाल नादौती क्षेत्र का भी है। अधिकारियों की ओर से पानी की टेस्टिंग करने के बाद इसे लोगों को पीने के लिए नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में इस परियोजना का लाभ लोगों को पूरी तरह नहीं मिल सका है।


आधे से ज्यादा हिस्से में नहीं पहुंच रहा पानी


पिछले करीब डेढ़ दशक से चम्बल के पानी की बाट जोह रहे लोगों को अभी चम्बल का पानी पीने के लिए और इंतजार करना होगा। जलदाय विभाग के अधिकारियों का कहना है कि शहर में ज्यादातर पुरानी लाइन बिछी हैं। शहर के माल गोदाम, मैन बाजार एवं दशहरा मैदान क्षेत्र में तो टेस्टिंग कर पानी मुहैया करा दिया गया है, लेकिन अन्य हिस्से में पानी पहुंचाने के लिए नई लाइन डाली जाएगी। इस प्रक्रिया में करीब-करीब दो साल का समय लगेगा।


टेस्टिंग तक अटका काम


मंडरायल से पानी छोडक़र करौली के नादौती में सीडब्ल्यूआर बनाकर उसमें पानी भर दिया गया है। साथ ही कई जगह पानी की पाइप लाइन भी ज्वाइंट की गई हैं, लेकिन यह काम भी महज टेस्टिंग तक आकर अटक गया है। अभी तक लोगों को चम्बल का पानी नसीब नहीं हो सका है। यहां भी लोगों को अभी तक पानी पहुंचने का इंतजार है। टेस्टिंग के बाद से ही सीडब्ल्यूआर में गंदला पानी भरा है और यहां अन्य निर्माण कार्य चल रहा है, लेकिन पानी के लिए इंतजार अभी जारी है।


इस मामले में एईएन जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग डी. एल. सैनी का कहना है कि शहर की कुछ कॉलोनियों में पानी पहुंच रहा है। अन्य हिस्से में पानी पहुंचाने के लिए नई पाइन लाइन डाली जाएंगी। इसमें अभी और समय लगेगा।

Published On:
Sep, 12 2018 05:24 PM IST