खेलों से मिलती है आगे बढऩे की सीख

By: Rajeev Pachauri

Updated On:
10 Sep 2019, 02:40:03 PM IST

  • गंगापुरसिटी . खेल जहां तन-मन को स्वस्थ रखते हैं। वहीं अब खेलों में विद्यार्थियों का भविष्य भी उज्जवल है। कबड्डी अच्छा मुकाम हासिल कर रही है। प्रो कबड्डी इन दिनों लोगों की जुबां पर है। इसी तर्ज पर महिला कबड्डी को भी बढ़ावा मिलेगा। यह बात अतिरिक्त जिला कलक्टर पंकज कुमार ओझा ने कही। ओझा सोमवार को राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में 64वीं जिलास्तरीय (छात्रा) कबड्डी प्रतियोगिता के समापन समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।

गंगापुरसिटी . खेल जहां तन-मन को स्वस्थ रखते हैं। वहीं अब खेलों में विद्यार्थियों का भविष्य भी उज्जवल है। कबड्डी अच्छा मुकाम हासिल कर रही है। प्रो कबड्डी इन दिनों लोगों की जुबां पर है। इसी तर्ज पर महिला कबड्डी को भी बढ़ावा मिलेगा। यह बात अतिरिक्त जिला कलक्टर पंकज कुमार ओझा ने कही। ओझा सोमवार को राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में 64वीं जिलास्तरीय (छात्रा) कबड्डी प्रतियोगिता के समापन समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।


उन्होंने कहा कि कबड्डी में नयापन आ रहा है और कुछ नियम भी बदले हैं। राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्पद्र्धाओं का लक्ष्य रखने वाले खिलाडिय़ों को बदलाव को विशेष ध्यान रखना चाहिए। उन्होंने खिलाडिय़ों से खेलने के साथ पढ़ाई पर भी ध्यान देने और खेलों के माध्यम से समरसता, भाईचारा एवं सौहार्द्र बनाने की सीख दी। विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिव भगवान गोदारा ने कहा कि खेल हमें अनुशासन सिखाते हैं और अनुशासन से ही व्यक्ति के जीवन में आगे बढऩे का मार्ग प्रशस्त होता है। गोदारा ने हारने वाले टीम की हौसला अफजाई करते हुए कहा कि खेल हमें आगे बढऩा सिखाते हैं, जो हारता है वह जीतता जरूर है।

ऐसे में बेहतर प्रयास हमेशा जारी रखें। उन्होंने नियमित अभ्यास को जीत का मंत्र बताया। अध्यक्षता करते हुए एसडीएम विजेन्द्र मीना ने कहा कि खेल हमारे जीवन का अहम हिस्सा हैं और यह हमें जीवन जीना सिखाते हैं। खेल हमें अनुशासन के साथ धैर्य और संयम की सीख देते हैं।

उन्होंने असफलता को चुनौती के रूप में स्वीकार कर आगे बढऩे की सीख दी। इससे पहले प्रधानाचार्य गायत्री वरमेन्दु ने प्रतिवेदन प्रस्तुत कर सभी अतिथियों का आभार जताया। मंच पर एसीबीईओ संतोष सोनी एवं महेश मीना, घनश्याम रावत, सतीश जैन, राजेश दुबे, मोहनलाल शर्मा, प्रधानाचार्य सेवाला विजय कुमार वर्मा आदि मौजूद रहे। विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गीत एवं प्रस्तुत किया। साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। अतिथियों ने विजेता टीमों के सभी खिलाडिय़ों को शील्ड देकर सम्मानित किया। संचालन पुष्पा गर्ग ने किया। इस मौके पर विद्यालय प्रभारी राजेन्द्री मीना, पूरनमल, एडीएम कार्यालय के योगेन्द्र शर्मा एवं विद्यादेवी आदि मौजूद रहे।


यह रहे विजेता


जिलास्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता (17 वर्ष) में राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय मानटाउन प्रथम एवं डॉ. भीमराव अम्बेडकर बालिका आवासीय विद्यालय छाण द्वितीय तथा (19 वर्ष) में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय कोयला प्रथम एवं डॉ. भीमराव अम्बेडकर आवासीय विद्यालय छाण की टीम द्वितीय रही।

Updated On:
10 Sep 2019, 02:40:03 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।