तेजाजी मेला देखने आए युवक की अपहरण के बाद हत्या, मेले के दौरान वारदात ,8 लोगों के खिलाफ बौंली थाने में मामला दर्ज

By: Vijay Kumar Joliya

Updated On:
10 Sep 2019, 01:27:49 PM IST

  • तेजाजी मेला से एक युवक का अपहरण करने के बाद उसकी हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया

     

बौंली. खिरनी में आयोजित तेजाजी मेला से एक युवक का अपहरण करने के बाद उसकी हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया है। मृतक के पिता रामफूल ने बताया कि उसका 23 वर्षीय पुत्र रामधन गुर्जर अपने पैतृक गांव फतेहरामपुर, फागी से अपने दोस्त हंसराज मीना के साथ मेला देखने आया था। मारपीट की सूचना पाकर गंभीर हालत में उन्होंने रामधन को जयपुर के महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। साथी हंसराज के मुताबिक मृतक के कुछ परिचित लोग उसे मेले से बोलेरो में बैठाकर ले गए।

मलारना चौड़ गांव में मारपीट के बाद बोलेरो सवार आठ लोग रामधन को घायलावस्था में पिपलाई छोड़कर भाग गए। साथी हंसराज ने घटना की सूचना मृतक के परिजनों को दी। घटना के बाद मृतक के पिता ने आठ अज्ञात लोगों के विरूद्ध बौंली थाने में हत्या की रिपोर्ट सौंपी है। साथी से की गई पूछताछ की माने तो प्रथम दृष्टया मामला प्रेम प्रसंग का लग रहा है। फिलहाल एसएचओ बनीसिंह ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यों चला घटनाक्रम
पिता द्वारा दी गई रिपोर्ट के मुताबिक मृतक रामधन अपने दोस्त रामगढ़ पचवारा जिला दौसा निवासी हंसराज मीना से मिलने के लिए रविवार सुबह 10 बजे घर से रवाना हुआ। हंसराज व रामधन 12 बजे हंसराज की चारपहिया गाड़ी से खिरनी मेला देखने पहुंचे। करीब एक बजे कार सवार 8 लोगों ने हंसराज को चाय पिलाने की बात कहकर गाड़ी में बैठाया। उनमें से तीन लोग हंसराज की गाड़ी में बैठ गए और बोलेरो के पीछे चलने की बात कही। इस दौरान दोनों युवकों के मोबाइल व दस्तावेज भी बोलेरो सवार लोगों ने छीन लिए।

प्रेम प्रसंग से जुड़ा हो सकता है मामला
सूत्रों की माने तो मृतक रामधन किसी लड़की से बात करता था। मृतक का साथी हंसराज भी इस बात से वाकिफ था और कभी-कभी उस लड़की से बात किया करता था। फिलहाल बौंली थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और हंसराज से पूछताछ करते हुए एसएचओ बनीसिंह अनुसंधान कर रहे हैं।

पिता ने दी रिपोर्ट घटना को लेकर मृतक रामधन गुर्जर के पिता रामफूल पुत्र लादूराम निवासी फतेहरामपुर, फागी ने हंसराज के साथ बौंली थाने में आठ अज्ञात लोगों के विरूद्ध अपहरण के बाद हत्या करने की रिपोर्ट दी।

अब नहीं होगी गलती, मुझे छोड़ दो, साथी हंसराज ने दी जानकारी
हंसराज के मुताबिक बोलेरो जब मलारना चौड़ पहुंची तो मृतक रामधन के साथ बोलेरो सवार युवकों ने मारपीट करना शुरू कर दिया। ऐसे में दूसरी गाड़ी में बैठे साथी हंसराज ने रामधन को सिर्फ यह कहते हुए सुना कि मुझे छोड़ दो अब आगे गलती नहीं होगी। इसके बाद रामधन को बामनवास थाना क्षेत्र के पिपलाई गांव के समीप घायल अवस्था में हंसराज को सौंपकर सभी बोलेरो चालक मौके से फरार हो गए।

घटना के बाद साथी हंसराज घबरा गया और मृतक के भाई दयाराम को घटना की सूचना मोबाइल पर दी। दयाराम ने घायल रामधन को महात्मा गांधी अस्पताल जयपुर लाने की बात कही। हंसराज रामधन को अस्पताल लेकर पहुंचा और इस बीच मृतक का बड़ा भाई दयाराम भी अपने साले के साथ अस्पताल पहुंचा। घायल रामधन को बुरी तरह पीटा गया था। इसके चलते इलाज के दौरान रविवार को ही उसकी मौत हो गई। मृतक रामधन के 6 माह का पुत्र है। घटना के बाद परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था।

  • मामला दर्ज कर लिया गया है। टीम गठित कर प्रभावी अनुसंधान किया जा रहा है। शीघ्र ही दोषियों को गिरफ्तार करेंगे।
    बनीसिंह, एसएचओ, बौंली

Updated On:
10 Sep 2019, 01:27:49 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।