बिरसिंहपुर: गैवीनाथ धाम में उमड़ी भक्तों की आस्था, भीषण गर्मी के कारण कई महिलाएं गश खाकर गिरी

By: Suresh Kumar Mishra

Updated On:
12 Aug 2019, 03:12:34 PM IST

  • सावन का आखिरी सोमवार: बढ़ती भीड़ व भीषण गर्मी से चक्कर खा कर गिर रही महिलाएं, इलाज के भी नहीं कोई खास इंतजाम

सतना। सावन मास ( Sawan Mass )के आखिरी सोमवार ( sawan somwar ) पर चित्रकूट ( Chitrakoot ) के मत्यगजेंद्र और बिरसिंहपुर ( Birsinghpur ) स्थित गैवीनाथ धाम ( Gaivinath Shiv Temple) में भक्तों की आस्था उमड़ पड़ी। भीषण गर्मी के कारण बिरसिंहपुर में श्रद्धालु महिलाएं गश खाकर गिरती रहीं फिर भी उनकी आस्था कम नहीं हुई। बताया गया कि गैवीनाथ प्रबंध समिति द्वारा भीड़ को कंट्रोल करने के लिए कुछ खास इंतजाम नहीं किए गए था। अचानक से भीड़ बढऩे के कारण कई महिलाओं को चक्कर आने लगे।

sawan last somvar 2019: birsinghpur  <a href=Satna shiv mandir" src="https://new-img.patrika.com/upload/2019/08/12/sk_2_4962974-m.jpg">
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika

भीड़ के बीच में फंसने के कारण महिलाएं बेहोस होने लगी। आनन-फानन में समिति के सदस्यों ने चक्कर से बेहोस हो रही महिलाओं को बाहर निकालकर पानी के छींटे मारते हुए चबूरे पर बैठाया। सूत्रों की मानें तो भीड़ के मददेनजर स्वास्थ्य विभाग की टीम को तैनात रहना चाहिए लेकिन कोई जिम्मेदार नहीं नजर आया।

sawan last somvar 2019: birsinghpur satna shiv mandir
Patrika IMAGE CREDIT: Patrika

स्नान के साथ होती है पूजा की शुरुआत
बता दें कि गैवीनाथ मंदिर में सावन मास और हर सोमवार को भारी संख्या में भीड़ उमड़ती है। यहां विंध्य क्षेत्र के सतना, रीवा सहित आसपास के अन्य जिलों के लोग भगवान शिव का अभिषेक करने के लिए पहुंचते है। शिव सरोबर में स्नान के साथ पूजा-अर्चना की शुरुआत होती है। फिर भक्त भोलनाथ के दर्शन के बाद अनुष्ठान आदि करते है। सुबह-शाम मंदिर की आकर्षक साज-सज्जा कर भव्य तरीके से आरती की जाती है। श्रावण मास में कई भक्त मन्नतें पूर्ण होने के बाद सैकड़ों लोग एक साथ भंडारा आदि करते है। ये भंडारा करने की प्रक्रिया वर्षों से चली आ रही है।

चित्रकूट में उमड़ा जनसैलाब
श्रावण मास के आखिरी सोमवार पर धर्म नगरी चित्रकूट में मत्यगजेंद्र शिव मंदिर पर श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा। बताया गया कि बारी-बारी से भक्त रामघाट स्थित मंदाकिनी नदी में स्नानकर भगवान मत्यगजेंद्र का जलाभिषेक कर रहे है। हर-हर महादेव के नारों से चित्रकूट का रामघाट गुंजायमान हो रहा है। इसके अलावा जिले के चौमुखनाथ मंदिर, कर्मदेश्वर मंदिर जसो, रामवन के शिव मंदिर, पशुपति नाथ मंदिर, जगतदेव तालाब शिव मंदिर में खास आयोजन हो रहे है।

Updated On:
12 Aug 2019, 03:12:34 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।