बाबा रामदेव ने किया बड़ा ऐलान, बाेले- पांच कराेड़ किसानाें की जिंदगी जल्द करेंगे खुशहाल

  • पांच साल में विदेशी कंपनियाें काे भारत दे देंगे माेक्ष
शिवमणि त्यागी, सहारनपुर। पदम श्री भारत भूषण जी के जन्म दिन पर आयाेजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए सहारनपुर पहुंचे बाबा रामदेव महाराज ने कहा कि आने वाले पांच सालाें में वह देश काे काे लूट रही विदेशी कंपनियाें का भारत से माेक्ष कर देंगे। उन्हाेंने कहा कि अभी तक लाखाें लाेगाें काे राेजगार दिया है आैर अगले पांच सालाें में लाखाें आैर युवाआें काे राेजगार देंगे। इतना ही नहीं उन्हाेंने पांच कराेड़ किसानाें काे बाजार देकर उनके परिवार काे खुशहाल कर देने का वादा भी किया।

देखें वीडियो...


बाबा रामदेव यहां इस कार्यक्रम काे संबाेधित कर रहे थे। इसी दाैरान उन्हाेंने कहा कि कुछ लाेग अक्सर उनसे सवाल करते हैं कि बाबा आप ताे याेग के साधक हैं ताे फिर ये उद्याेग क्याे लगाते हैं। बाेले कि इस सवाल पर मैं उनसे यही पूछता हूं कि भाई आपके पेट में क्याें दर्द हाे रहा है। मुस्कुराते हुए बाबा रामदेव बाेले कि जब याेग घटित हाेता है ताे उसी से उद्याेग का जन्म हाेता है। इसके बाद बाबा रामदेव कुछ कड़े तेवर दिखे आैर उन्हाेंने कहा कि अब तक लाखाें लाेगाें काे राेजगार दे चुके हैं आैर अगले पांच सालाें में लाखाें आैर लाेगाें काे राेजगार देने के साथ-साथ पांच कराेड़ किसानाें के जीवन काे खुशहार करने जा रहे हैं। किसानाें काे पंतजलि से जाेड़कर उन्हे अच्छी खेती करना सिखाएंगे आैर उन्हे फसलाें का उचित दाम भी देंगे।

ईस्ट इंडिया कंपनी जैसी है सभी विदेशी कंपनियां

बाबा रामदेव ने सहारनपुर में आयाेजित इस कार्यक्रम के मंच से कहा कि जितनी भी विदेशी कंपनियां भारत में अपने उत्पाद बेच रही हैं वह सभी ईस्ट इंडिया कंपनी जैसी ही हैं। ईस्ट इंडिया कंपनी भारत का विकास करने या यहां व्यापार करने नहीं बल्कि भारत काे लूटने आई थी आैर इसी तरह से दूसरी सारी विदेशी कंपनियां है जाे भारत में काेई विकास या व्यापार करने नहीं आई हैं बल्कि पैसा लूटने आई हैं। उन्हाेंने कड़े तेवराें में कहा कि, आने वाले पांच सालाें में कई विदेशी कंपनियाें काे भारत से माैक्ष दे देंगे।
 
पंतजलि का एक-एक रुपया देश के लिए 

बाबा रामदेव महाराज ने यहां पंतजलि की ब्रांडिग करते हुए कहा कि पंतजलि का एक-एक रुपया भारत देश के लिए हैं। यह भी कहा कि पंतजलि देश के नाैजवानाें काे राेजगार दे रही है आैर आगे भी इसी तरह से देशवासियाें काे राेजगार देगी।