बारिश में खराब हो गई मूंग, उड़द की फसल, किसानों ने मांगा मुआवजा

manish Dubesy

Publish: Sep, 12 2018 03:25:25 PM (IST)

भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में किसानों ने कलेक्टर को दिया ज्ञापन

सागर. जनसुनवाई में मंगलवार को बारिश से हुई उड़द, मूंग की खराब फसलों को हाथ में लेकर खेतों का सर्वे कर मुआवजा देने की मांग को लेकर राहतगढ़, जैसीनगर के किसानों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। इसके अलावा ट्राइसाइकल के लिए बड़ी संख्या में दिव्यांग भी पहुंचे। भारतीय किसान यूनियन के जिलाध्यक्ष संदीप ठाकुर अपने साथियों व किसानों के साथ कलेक्टोरेट पहुंचे और बारिश से
हुए नुकसान का मुआवजा दिलाने सिटी मजिस्ट्रेट राजेंद्र सिंह को ज्ञापन सौंपा।
किसानों ने कलेक्टर परिसर में जमकर नारेबाजी की। किसानों ने कहा कि राहतगढ़ तहसील, जैसीनगर व खुरई में उड़द, मूंग की फसलें अतिवृष्टि के कारण खराब हो गई हैं। किसानों ने बताया कि क्षेत्र की करीब 80 फीसदी फसलों को नुकसान हुआ है, जिसका जल्द
से जल्द सर्वे कराया जाए। किसानों ने चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह के भीतर नुकसान की सर्वे कर रिपोर्ट नहीं दी जाएगी तो वह सभी भूख हड़ताल कर आंदोलन करेंगे। ज्ञापन देने वालों में राहुल ठाकुर, ब्रजेश ठाकुर, सोनू सिंह, शिवम ठाकुर, दीपक कुर्मी सहित कई लोग शामिल थे।
सर्वे की मांग
नरयावली विधायक प्रदीप लारिया ने मंगलवार को कलेक्टर आलोक कुमार सिंह से मुलाकात करते हुए कहा कि क्षेत्र के नदी किनारे लगे खेतों में लगातार बारिश से खरीफ , उड़द की फसल नष्ट हो गई है, जिसका प्रशासन द्वारा शीघ्र सर्वे कराया जाए। इसके अलावा बारिश से सागर सिटी लिंक रोड, बम्हौरी तिगड्डा से लेकर मकरोनिया गढ़पहरा मार्ग, रेलवे के 30 नंबर गेट के आरोही निर्माण कार्य, बहेरिया से धामोनी सड़क मार्ग एवं मकरोनिया से बहेरिया सड़क चौड़ीकरण कार्य धीमी गति से चल रहा है, जिससे राहगीर परेशान हो रहे हैं। कलेक्टर ने फोन पर संंबंधित अधिकारियों से चर्चा कर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।
सातवें वेतनमान
की मांग
मप्र पंचायत सचिव संगठन के सदस्यों ने जनसुनवाई में मुख्यमंत्री एवं पंचायत मंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर 13 सूत्रीय मांगों का निराकरण करने की मांग की। सचिवों ने सातवां वेतनमान देने, राज्य स्तरीय कर्मचारी घोषित करने, नवीन वेतनमापन का प्रावधान करने एवं सचिवों के सेवाकाल की
गणना नियुक्ति दिनांक से करने की मांग की।
अल्पाहार बांटा
जनसुनवाई में घरौंदा सेंटर द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले वृद्ध व दिव्यांग आवेदकों को अल्पाहार वितरण किया गया। सेंटर की संचालिका प्रीति यादव व क्वार्डिनेटर जुबेर खान ने बताया कि हमारे संगठन के करीब 18 सदस्य हर माह 500 रुपए एकत्रित कर अब जनसुनवाई में आने वाले लोगों को चाय-नाश्ता कराएंगे।

 

More Videos

Web Title "Mung urad crop farmers demanded compensation in rain"