बारिश ने डाला खलल, मुकुंदपुर में बारहसिंगा देखने थोड़ा और करें इंतजार

By: Bajrangi Rathore

Updated On:
25 Aug 2019, 11:55:20 PM IST

  • बारिश ने डाला खलल, मुकुंदपुर में बारहसिंगा देखने थोड़ा और करें इंतजार

रीवा। मप्र के रीवा जिले में स्थित महाराजा मार्तण्ड सिंह जूदेव चिडिय़ाघर मुकुंदपुर में शाकाहारी जानवरों की संख्या बढ़ाए जाने की तैयारी चल रही है। करीब एक वर्षसे चल रहे प्रयास के बीच औपचारिकताएं पूरी होने के बाद जानवर लाए जाने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है।

लखनऊ से पांच बारहसिंगा लाए जाने के लिए अगस्त के आखिरी सप्ताह की तिथि तय की गईथी, लेकिन मौसम में आए बदलाव की वजह से बारिश की संभावना जताईजा रही है। जिसकी वजह से फिलहाल लखनऊ जाने का कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है। अब दो सप्ताह बाद जानवर लाए जाने की फिर तिथि तय होगी। चिडिय़ाघर में पांच नए बाड़े बनाए जाने के बाद से उनमें शाकाहारी जानवरों को रखा जाना है।

इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं। कुछ समय पहले ही थामिन डियर सहित अन्य कईजानवर दिल्ली एवं बिलासपुर से लाए गए थे। लखनऊ चिडिय़ाघर से पत्राचार करीब दो वर्षों से चल रहा है। वहां से एक मेल और चार फीमेल बारहसिंगा देने की सहमति बनी है। चिडिय़ाघर प्रबंधन ने लखनऊ जाने के लिए सतपुड़ा टाइगर रिजर्व और बांधवगढ़ से वाहन मांगे हैं। मुकुंदपुर में स्पेशल वाहन नहीं है, जिसमें जानवरों की शिफ्टिंग एक स्थान से दूसरे स्थान तक की जा सके।

बताया गया हैकि इसके बाद जूनागढ़ और मैसूर से भी जानवर लाए जाएंगे। वहां के चिडिय़ाघरों की ओर से अब तक जानवर देने के संबंध में सहमति नहीं दी गई है। उक्त स्थानों से जैसे ही सहमति मिलेगी, टीमें भेजी जाएंगी। बरसात का मौसम समाप्त होते ही जानवरों की शिफ्टिंग करने की तैयारी की गई है।

अवकाश के चलते अधिक संख्या में पहुंचे पर्यटक

रविवार को अवकाश का दिन होने की वजह से मुकुंदपुर चिडिय़ाघर में अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक संख्या में पर्यटक पहुंचे। सायं चार बजे के पहले ही यहां पर एक हजार से अधिक की संख्या में पर्यटक पहुंच चुके थे। बताया जा रहा हैकि सामान्य दिनों में सात से आठसौ तक लोग यहां पर जानवरों को देखने के लिए आते हैं।

Updated On:
25 Aug 2019, 11:55:20 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।