भगवान राम के चरित्र को अपने जीवन में उतारें

By: Manoj Kumar Singh

Updated On:
25 Aug 2019, 07:13:41 PM IST

  • भारतीय रेडक्रास सोसायटी में व्याख्यान

रीवा. वृद्धाश्रम स्वागत भवन में शनिवार को श्रीराम के चरित्र पर प्रवचन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला सत्र न्यायाधीश डॉ. एके सिंह रहे। अध्यक्षता रेडक्रास सोसायटी के चेयरमैन डॉ. एचपी ङ्क्षसह ने किया। विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रो. सुशीला दुबे, डॉ. महेंन्द्र, डॉ. सीडी दुबे, डॉ. सुशील त्रिपाठी उपस्थित रहे। जिला सत्र न्यायाधीश डॉ. एके सिंह ने कहा कि ईश्वर की योगमाया में पूरा संसार फंसा हुआ है।

इस माया से बिना रामजी की कृपा से निकलना बहुत मुश्किल है। मोह भजन एवं कीर्तन से नष्ट किया जा सकता है। सकारात्मक सोंच, कर्तव्य परायणता, ईश्वर की अनुग्रह से सतसंग करना चाहिए। जैसा की मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम के जीवन चरित्र में हमें मिलता है। डॉ. एचपी ङ्क्षसह ने कहा कि संसार की सभी वस्तुएं नाशवान हैं। इनके मोह में फंसकर हमें ईश्वर को नहीं भूलना चाहिए। इस अवसर पर कुंवर वैद्यनाथ सिंह, आदित्य प्रताप ङ्क्षसह, रणछोर ङ्क्षसह, विष्णु प्रसाद चतुर्वेदी, रामसुंदर द्विवेदी, शोभनाथ गुप्ता, रामकरण उर्मलिया, मोहन सिंह, आरडी तिवारी, आरडी प्रधान, डीपी पटेल, अविनाश दुबे, संपदा सिंह सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Updated On:
25 Aug 2019, 07:13:41 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।