महिला ने इस थाने के टीआई की बताई यह हरकत तो विफरे आइजी, पढि़ए पूरी खबर

By: Rajesh Patel

Updated On:
24 Aug 2019, 01:05:02 PM IST

  • शहर में जमीनी विवाद के चलते पखवाड़ेभर से परेशान पीडि़त बुजुर्ग महिला न्याय के लिए पहुंची आइजी कार्यालय...

रीवा. जिले के ज्यादातर पुलिस थाने में फरियादियों को न्याय के बजाए अपमान और दुत्कार जैसी जलालत झेलनी पड़ रही है। हद तो तब हो गई जब आला अफसरों की नाक के नीचे सिटी कोतवाली के टीआई ने पीडि़त बुजुर्ग महिला को भद्दी-भद्दी गाली देकर थाने से भगा दिया। पखवाड़ेभर से पीडि़त महिला विभाग के आला अफसरों की चौखट पीट-पीट कर लहूलुहान करने वालों पर मुकदमा लिखवाने के लिए पसीना बहा रही है। हम बात कर रहे हैं सिटी कोतवानी क्षेत्र के धोबिया टंकी के भगौती टोला में रहने वाली पीडि़त मुन्नी देवी पत्नी लल्लू बसंल की।

कोतवानी टीआई आरोपियों की कर रहे मेहमान नवाजी
पीडि़त महिला पुलिस महानिरीक्षक (आइजी) रीवा रेंज के कार्यालय पहुंचीं। आइजी चंचल शेषर को आवेदन देकर कहा, सिटी कोतवाली की पुलिस मुझे लाठी-डंडे से पीट-पीट कर गहरी चोटें पहुंचाने वालों पर कर्रवाई के बजाए मेहमान नवाजी कर रही है। सिटी कोतवाली में 23 जुलाई को मारपीट करने वालों पर कार्रवाई के लिए तहरीर दी है। आज तक कार्रवाई नहीं हुई है। पीडि़त महिला आइजी को आप बीती सुनाते हुए फफक पड़ी। इस दौरान महिला ने कहा कि आइजी साहब सिटी कोतवाली के टीआई मुझे भद्दी-भद्दी गाली देते हैं। दबंगों ने मेरे सिर का बाल नोंच लिया है।

लाठी-डंडे से गहरी चोटें पहुंचाई
लाठी-डंडे से शरीर में गहरी चोटी पहुंचायी है। जिससे चलने फिरने में असमर्थ हो गई हूं। इससे पहले पीडि़त महिला ने सीएसपी और पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार लगा चुकी है। ये कहानी अकेले इस पीडि़त महिला की नहीं बल्कि आइजी कार्यालय में एक घंटे के भीतर ऐसे आधा दर्जन से ज्यादा फरियादी पहुंचे जिन्हें लंबे समय से न्याय नहीं मिल रहा है। इस दौरान आइजी ने दर्जनों की संख्या में फरियादियों की शिकायतें सुनी और न्याय का आश्वासन दिया है।

Updated On:
24 Aug 2019, 01:05:02 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।