Green corridor: ट्रेन में यात्री को आया अटैक, रेलवे ने भी बनाया ग्रीन कॉरिडोर

By: Manish Geete

Updated On:
13 Aug 2019, 10:47:22 AM IST

  • पश्चिम एक्सप्रेस में सवार था यात्री, आधे घंटे पहले गाड़ी पहुंची मथुरा, यात्री को नहीं बचा पाए, यात्री को ट्रेन में आया अटैक, रेलवे ने बनाया ग्रीन कॉरिडोर

 

रतलाम। अमृतसर से बांद्रा जा रही पश्चिम एक्सप्रेस (12926) में एक यात्री को बचाने फरीदाबाद से मथुरा ( mathura ) के बीच ग्रीन कॉरिडोर ( Green Corridor ) बनाया। यात्री को फरीदाबाद से पहले हार्ट अटैक ( heart attack ) की शिकायत हुई। रेलवे कंट्रोल को सूचना के बाद ग्रीन कॉरीडोर तैयार हुआ।

 

ट्रेन आधे घंटे पहले मथुरा स्टेशन पर पहुंच गई। इस सब के बावजूद यात्री नहीं बच सका। ट्रेन में तैनात रतलाम के टीटीई ललित विजयवर्गीय ने बताया कि बी-1 डिब्बे में सीट नंबर 24-25 पर 24 वर्षीय नवदीप सिंह अपनी मां राजेंद्र कौर के फगवाड़ा से बांद्रा जा रहे थे। दिल्ली से ट्रेन शाम को 4 बजकर 25 मिनट पर चली। इसके बाद फरीदाबाद से पहले शाम को 5 बजे युवक नवदीप को सांस लेने में समस्या होने लगी। इसकी जानकारी टीटीई को दी गई, ट्रेन में चिकित्सक की तलाश हुई, लेकिन कोई चिकित्सक यात्री नहीं मिला।

 

इस बीच कोच में सवार यात्रियों ने नवदीप को पंपिंग से लेकर मुंह से सांस देने का प्रयास किया। इस बीच यात्री बेहोश हो गया तो टीटीई दल ने दिल्ली रेलवे नियंत्रण कक्ष को मामले की सूचना दी। यात्री को मथुरा में चिकित्सा मदद उपलब्ध कराने के लिए रेलवे ने ताबड़तोड़ ग्रीन कॉरिडोर बनाने का निर्णय लिया।

 

रास्ते भर ग्रीन सिग्नल
ग्रीन कॉरिडोर बनने के बाद रात करीब 7.10 बजे मथुरा पहुंचने वाली पश्चिम एक्सप्रेस ट्रेन को रेलवे ने शाम को 6.30 मिनट पर ही पहुंचा दिया। वहां पहले से चिकित्सक तैनात थे व एम्बुलेंस भी आ गई थी। ट्रेन रुकने पर डाक्टरों ने नवदीप को ट्रेन में चेक किया तो उसकी मौत हो गई थी। उसका शव उतारकर स्थानीय अस्पताल में रखवाया गया।

 

यात्रियों ने की मदद
इस बीच यात्रियों ने टीटीई ने राजेंद्र कौर की आर्थिक मदद के लिए कहा और स्वयं भी अपनी तरफ से मदद की। इसके बाद यात्रियों ने एक हजार, दो हजार की मदद की। कुल मिलाकर करीब 15 हजार रुपए एकत्र करके यात्रियों ने दे दिए।

Updated On:
13 Aug 2019, 10:47:22 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।