जानिये, आजम खान ने किससे कहा- मुझे नपुंसक बताकर दर्द और आंसू देने वाले से बदला लो

By: lokesh verma

Updated On: Apr, 20 2019 03:52 PM IST

  • रामपुर के महात्मा गांधी मैदान में सपा प्रत्याशी आजम खान के समर्थन में गठबंधन की संयुक्त रैली

रामपुर. लोकसभा चुनाव के तहत शनिवार को रामपुर के महात्मा गांधी मैदान में सपा प्रत्याशी आजम खान के समर्थन में गठबंधन की संयुक्त रैली का आयोजन किया गया, जिसमें सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती ने भाजपा और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। वहीं मंच पर पहुंचते ही आजम खान ने शायरी के जरिये भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि 'तुझको मालूम है दुनिया तुझे क्या कहती है, हाथ रख लेती है कानों पर तेरे नाम के साथ, और कुछ दिन और रहे गर यही हालात-ए-चमन, रह सकता नहीं सय्याद भी आराम के साथ।' उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि पांच साल तक तुम्हारे साथ धोखा हुआ है। पांच साल तक मजदूर रोया है, मां रोयी है, किसान और दलित रोया है। आज आखिरी बार मैं तुमसे यह कहता हूं कि मेरे हर दर्द का बदला लो, मेरा गुनाह ये है कि मैं तुम्हारा हर दर्द सहता हूं। मोदी जी आपके बच्चों के हाथों में झाड़ू देना चाहते हैं और मैं तुम्हारे बच्चों के हाथ में कलम देना चाहता हूं। इसलिए मेरे आसुंओं का बदला लो।

यह भी पढ़ें- रामपुर पहुंचते ही मायावती ने किया आजम खान के लिए बड़ा ऐलान

उन्होंने रैली में जनता को संबोधितक करते हुए कहा कि एक बात और जान लो तुम्हारे बगैर हिंदुस्तान की तकदीर का फैसला नहीं हो सकता। तुम्हारे बगैर हिंदुस्तान का नक्शा मुकम्मल नहीं हो सकता है। हम 1947 में पाकिस्तान जा सकते थे, लेकिन नहीं गए क्योंकि यह हमारा मुल्क है। 23 तारीख को तुम्हारी परीक्षा है, जिन्होंने उर्दू दरवाजा गिरा दिया और यूनिवर्सिटी की दीवार गिरा दी उनसे बदला लो। उन्होंने प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि कल इंतजामिया की मिटिंग में यह कहा गया है कि इनका मनोबल तोड़ो। मेरे एक वर्कर के घर छापा मारा गया। वह गरीब पैसा बांटेगा! हम चंदा लेकर चुनाव लड़ते हैं। पैसा उन्होंने बांटा है, जिनके यहां जहाज उतरे हैं।

यह भी पढ़ें- जनसभा में फूट-फूटकर रोये आजम खान, बोले- मुझे नहीं लड़ना चुनाव

वहीं आजम खान फिर मीडिया पर हमला बोलते हुए कहा कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया ने मेरी मरी हुई मां, मेरे बाप को गालियां दी हैं। मुझे नपुंसक कहा है। इसका बदला लो। वहीं अंत में आजम खान शायरी पढ़ते हुए कहा कि 'मंजिल पर न पहुंचे उसे रस्ता नहीं कहते, दो-चार कदम चलने को चलना नहीं कहते'। वहीं आजम खान ने गठबंधन पर कहा कि नेता जी कहते हैं कि नफरत करो तो दिल से करो और मोहबत करो तो दिल से करो। इसलिए हमने दिल से आपसे रिश्ता जोड़ा है।

UP News से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Uttar Pradesh Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..
UP lok sabha election Result 2019 से जुड़ी ताज़ा तरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए Download करें patrika Hindi News App

Published On:
Apr, 20 2019 03:52 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।