ध्यान हटाने की ताकत किसी के पास नहीं, केवल भाजपा के पास : अखिलेश यादव

By: Rahul Chauhan

Published On:
Apr, 20 2019 03:51 PM IST

    • जनसभा को संबोधित करने के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पहुंचे
    • जनसभा को संबोधित करते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने जमकर भाजपा व कांग्रेस पर निशाना साधा

रामपुर। लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के मद्देनजर शनिवार को सपा-बसपा गठबंधन की जनसभा का आयोजन महात्मा गांधी मैदान में किया गया। इस दौरान रामपुर से सपा प्रत्याशी आजम खान के समर्थन में एक बड़ी जनसभा को संबोधित करने के लिए बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव पहुंचे। जनसभा को संबोधित करते हुए बसपा सुप्रीमो मायावती ने जमकर भाजपा व कांग्रेस पर निशाना साधा।

यह भी पढ़ें : रामपुर पहुंचते ही मायावती ने किया आजम खान के लिए बड़ा ऐलान

वहीं इसके बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने संबोधन की शुरूआत करते हुए कहा कि मैं सबसे पहले आदरणीय मायावती जी का बहुत बहुत धन्यवाद और आभार प्रकट करना चाहता हूं। आपने समाजवादी पार्टी के तीनों प्रत्याशियों के लिए अपील की है। सभी जानते हैं कि पहले दो चरणों में वोट कैसे पड़े हैं। भारतीय जनता पार्टी का कहीं भी कोई भी खाता खुलता नजर नहीं आ रहा है। अब तीसरे चरण का मतदान होने वाला है। इस चरण में भी भाजपा का कोई खाता नहीं खुलने वाला है।

 

इधर, पांच साल की दिल्ली की सरकार और दो साल की उत्तर प्रदेश की सरकार। देश बहुत नाजुक स्थिति से गुजर रहा है। इन सरकारों ने हर वर्ग के लोगों को दुखी किया है। याद रखें ये लोग, जो लोकतंत्र में जनता को दुख देते हैं उनसे जनता भी पूरा हिसाब लेती है। ये लोग हमें कहते हैं हम महामिलावट हैं, लेकिन वह लोग जनता ही आवाज सुन लें, ये महामिलावट नहीं। देश में महापरिवर्तन आने वाला है।

देश में महागठबंधन कह रहा है कि देश का नया प्रधानमंत्री आने वाला है। जब प्रधानमंत्री नया बनेगा तभी नया देश बनेगा। ये हमें और आपको डराकर, नफरत फैलाकर राजनीति करना चाहते हैं। हमें पूरा विश्वास है, अगर उनके पास सत्ता है तो गठबंधन के पास जनता है। ये सत्ता को जनता हटाने का काम करेगी।

यह भी पढ़ें : सपा-बसपा गठबंधन के लिए बुरी खबर, सपा के पूर्व विधायक पहुंचे कांग्रेस उम्मीदवार के प्रचार में

उन्होंने कहा कि वैसे तो रामपुर, मुरादाबाद और संभल की पहचान अपनी-अपनी जगह है। लेकिन इधर, आदरणीय आजम खान साहब ये दिखा दिया कि कम समय में काम किए जा सकते हैं, यूनिवर्सिटी बनाई जा सकती है और अगर सरकार में किसी को सबसे ज्यादा परेशान किया किसी को अगर तो वो आपके नेता हैं। परेशानी कानून से भी, प्रशासन से भी। तीन दिन हैं केवल चुनाव में, 23 तारीख को ही मतदान करना है आपको। बताओ रामपुर और आसपास के लोग, वोटों की बारिश करेंगे कि नहीं। आपको हर साजिश, धोखे से बचते हुए, भाजपा छल भी कर सकती है। ध्यान हटाने की ताकत किसी के पास नहीं है, वो केवल भाजपा के पास है। वो अगर प्रधानमंत्री देश के है तो जरूर लेकिन वो केवल 1 प्रतिशत आबादी के प्रधानमंत्री हैं, 99 प्रतिशत आबादी के प्रधानमंत्री नहीं हैं।

Published On:
Apr, 20 2019 03:51 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।