बाजार में आस्ट्रेलियन डायमंड व एनिमेटेड वर्ड ब्रांडेड राखियों की धूम

By: Nakul Ram Sinha

Published On:
Aug, 14 2019 05:06 AM IST

  • बच्चे पसंद कर रहे टेडी राखी

राजनांदगांव / डोंगरगढ़. 15 अगस्त गुरूवार को होने वाले भाई बहन का पवित्र पर्व रक्षा बंधन का त्योहार भाई बहन के अटूट प्रेम के प्रतिक के रूप में मनाया जाता है जिसे लेकर शहर के बाजार में राखी की दुकाने सजने लगी है। जहां बदलते ट्रेड के हिसाब से बाजारों में राखी सजने लगी है। रेलवे चौक स्थित सुहाग महल के संचालक गुरविंदर सिंह ने बताया कि वह भाई बहन के इस पवित्र पर्व के लिए बीते कई महीनों से खरीदारी को लेकर तैयारियां कर रहे थे जिसमें उन्होंने बताया कि अब बदलते ट्रेड के हिसाब से रक्षासूत्र उपल्बध है। भाईयों के कलाई में बांधने के लिए रेशम के डोर के स्थान पर अब ब्रांडेड राखियों ने ले ली है। फैशन के बदलते दौर मेें अब हल्के व महंगे राखियों की मांग ज्यादा है। हाल की जीएसटी के दायरे से मिली छूट के बाद से राखी व्यापारियों ने राहत की सांस ली है। वहीं दूसरी ओर खराब मौसम के चलते भी अभी ग्राहकी कमजोर है। उन्होंने बताया कि अब त्योहार के दो दिन ही पहले खरीदारी जोर पकड़ेगी, तब दुकान सुबह से देर रात तक खोलनी पड़ती है। अभी बाजार में जरी मौली धागा, गोल्डन सिल्वर वाले राखी क्रिस्टल स्टोन, चंदन, रूद्राक्ष, स्टोन, लुंबा सहित अन्य ब्रांड की राखियां बाजार में उपल्बध है जिसे लोगों द्वारा खूब पसंद किया जा रहा है।

बहनों के लिए गिफ्ट की भरमार
भाई बहन के पवित्र पर्व को लेकर बहने उत्साहित है वहीं दूसरी ओर भाई भी पीछे नही है, भाई बहनो के लिए उनकी मन पसंद गिफ्ट की खरीदारी कर रहे हैं। बाजार में चाकलेट, टैडी बियर, बार्बी डाल, ग्रिटिंग कार्ड, लेडिस पर्स, कान के झुमके, मैटल तथा स्टोन जडि़त चुडिय़ां, मेकअप किट सहित बडी मात्रा में आधुनिक मोबाईल, ईयरफोन, मोबाईल कवर, स्मार्ट वाच सहित अन्य गिफ्टों की भरमार बहनों के लिए है।

बच्चों को भा रही काटून राखियां
बच्चों को काटूर्न के किरादारों से बने राखियां भा रही है। एक ओर महिलाएं ब्रांडेड राखियां पसंद कर रही है। वहीं दूसरी ओर बच्चों द्वारा लड्डु गोपाल, गणेशा, बाल हनुमान, छोटा भीम, स्पायडर मैन, सुपर मैन, डोरेमान, सुजूका, बैडमैन जैसे पात्रों की बनी राखियों को बच्चे खुब पसंद कर रहे है।

भईया-भाभी राखी का बढ़ा चलन
सुहाग महल के संचालक गुरविन्दर सिंह भटिया ने बताया कि इन दिनों भईया-भाभी राखी का चलन जोरों पर है। बहने भैया के साथ-साथ भाभी को भी राखी बांध रही है। इसलिए इसकी मांग भी ज्यादा है।

मिठाईयों की पूछ परख बढ़ी
बीकानेर स्वीटस के संचालक भैरोसिंह राजपुरोहित ने बताया कि गत वर्ष के मुकाबले शक्कर, तेल, घी सहित अन्य सामानों के दाम बढऩे बाद भी मिठाई के दामों में कोई खास फर्क नही पड़ा। परंपरागत मिठाईयों में पेड़ा, मिनी पेड़ा, काजु कतली, रसगुल्ला, घेवर, कलाकंद, मिल्क केक, रसमलाई, खोवा, छेना गुलाब जामुन, सोनपापड़ी सहित अन्य मिठाईयों की मांग ज्यादा रहती है। उन्होंने बताया कि डायफ्रुट से निर्मित मिठाईयों का चलन आज कल बढ़ा है। डिब्बा बंद ब्रांडेड कंपनियों की मिठाईयों को खरीदना पसंद कर रहे है। हालांकि इसकी कीमत ज्यादा होने के कारण उंचे तबके लोग ही इसे पसंद कर रहे है।

साडिय़ों के दुकानो लगी भीड़
रक्षाबंधन व तीज त्योहार को ध्यान में रखते हुए इन दिनों कपड़ों के दुकान खासी भीड़ चल रही है। गोलबाजार स्थित जनता डे्रसेस के संचालक जसबीर सिंह ने बताया कि इन दिनों बाहुबली, लक्ष्मी पति, सिंफान, चुनरी पिं्रट, जरी सहित वेस्ट बंगाल की टाट, केरल की कसावु, उड़ीसा की बोमकई, महाराष्ट्र की पैठानी, वाराणसी की बनारसी साड़ी इन दिनों चलन में है।

Published On:
Aug, 14 2019 05:06 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।