प्लाईवुड कारोबारी के घर डकैती, कट्टा दिखाकर 50 लाख लूटे

By narad yogi

|

14 Feb 2020, 09:44 PM IST

Raipur, Raipur, Chhattisgarh, India

रायपुर

शहर के पॉश कॉलोनी देवेंद्र नगर इलाके में एक प्लाईवुड कारोबारी के घर डकैती हो गई। हथियारबंद चार युवक गुरुवार रात उनके फ्लैट में घुसे। और उनके दो कलेक्शन एजेंटों को कट्टा उनके हाथ-पांव बांध दिए। फिर लॉकर खोलकर 50 लाख रुपए से अधिक की राशि लूटकर भाग निकले। लूटा गया पैसा पांच दिन के कलेक्शन का था। कारोबारी कुछ दिनों से बाहर है। फ्लैट में केवल कलेक्शन एजेंट रह रहे थे। घटना की शिकायत एजेंटों ने रात करीब 2 बजे देवेंद्र नगर थाने में की। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ डकैती का मामला दर्ज कर लिया है। आरोपियों का पता नहीं चल पाया है।

पुलिस के मुताबिक प्लाईवुड के कारोबार से जुड़े बबलू शर्मा त्रिमूर्ति नगर के क्षितिज अपार्टमेंट के बी ब्लॉक में फ्लैट नंबर 505 में रहते हैं। बबलू का प्लाईवुड के अलावा लेन-देन का कारोबार भी है। लेन-देन की राशि वसूलने के लिए उसने बजरंग शर्मा और रामरतन शर्मा को कलेक्शन एजेंट के रूप में रखा है। गुरुवार को फ्लैट में बजरंग और रामरतन थे। रात करीब 9.30 बजे चार युवक पहुंचे। पहले एक युवक ने फ्लैट का दरवाजा खटखटाया। बजरंग ने जैसे ही दरवाजा खोला, तो चारों लुटेरे कट्टा दिखाते हुए भीतर घुस गए। इसके बाद बजरंग और रामरतन की पिटाई करते हुए उन्हें कब्जे में ले लिया। दोनों के हाथ-पैर और मुंह टेप से बांध दिया। इसके बाद लॉकर से 50 लाख रुपए निकालकर बैग में रख लिया। बजरंग के पर्स में रखे 14 हजार रुपए भी ले लिए। इसके बाद आरोपी भाग निकले। करीब 15 मिनट बाद किसी तरह बजरंग और शिवरतन ने खुद को छुड़ाया और बबलू को घटना की सूचना दी। इसके बाद रात करीब ढाई बजे पीडि़त देवेंद्र नगर थाने पहुंचे और घटना की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ डकैती का मामला दर्ज कर लिया है।
मोबाइल फ्रिज में रख दिया

आरोपियों ने घटना को काफी प्रोफेशनल तरीके से अंजाम दिया है। पहले एक व्यक्ति ने दरवाजा खुलवाया। जैसे ही बजरंग ने दरवाजा खोला, सीढ़ी की ओर से तीन और लुटेरे आ गए। और सीधे बजरंग के पेट में कट्टे के पिछले भाग से वार करते हुए फ्लैट के भीतर घुस गए। दो लोगों ने बजरंग को पकड़ लिया। उसका मोबाइल ले लिया। फिर उसके हाथ-पैर बांधने लगे। इस बीच रामरतन को भी दो लोगों ने पकड़ लिया। और उसके हाथ-पैर बांध दिए। उसके मुंह में टेप चिपका दिया। इसके एक युवक दरवाजे पर खड़ा हो गया। फिर चाकू से लॉकर का एक पल्ला खोल लिया। दूसरा पल्ला खोलने के लिए बजरंग से चाबी मांगा। पूरी राशि बैग में भरने के बाद आरोपियों ने दोनों के मोबाइल को फ्रिज में रख दिया। इसके बाद फ्लैट से निकल गए। उनके जाने के बाद बजरंग और रामरतन किसी तरह जमीन पर घसीटते हुए फ्रिज के पहुंचे और मोबाइल बाहर निकालकर अपने परिचितों को बुलाया।और पुलिस के पास गए।
हवाला का पैसा होने का शक

बबलू और दोनों कलेक्शन एजेंट राजस्थान के रहने वाले हैं। बबलू पिछले दस दिन से अपने गांव गया है। बजरंग और रामरतन भी करीब 8 माह से रायपुर में हैं और बबलू के लिए वसूली का काम करते हैं। बबलू का वास्तविक कारोबार क्या है? यह पुलिस को भी अभी पता नहीं चल पाया है। चर्चा है कि पूरा पैसा हवाला का है, जो किसी दूसरे के पास जाना था, लेकिन नहीं दिया गया था।
आरोपियों को थी पूरी जानकारी

प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपियों को बबलू के एजेंटों के पास मोटी रकम होने की पूरी जानकारी थी। इसलिए आरोपी सीधे फ्लैट में घुसे और करीब 15 मिनट में लूटकर फरार हो गए। पुलिस आरोपियों की तलाश में जुट गई है।
पांचवीं में मंजिल में हुई घटना

पीडि़त शिक्षित अपार्टमेंट की पांचवीं मंजिल में रहते हैं। सुरक्षा गार्ड राजवीर पंडित का कहना था कि चार युवक करीब 9 बजे आए थे। रजिस्ट्रर में एंट्री नहीं किए और चले गए। इसके बाद करीब आधे घंटे बाद लौटे और फिर चले गए। अपार्टमेंट का सीसीटीवी कैमरा पिछले 26 जनवरी से बंद बताया जा रहा है। इससे आरोपियों का फुटेज पुलिस को नहीं मिला है।
यह है आरोपियों का हुलिया

आरोपी 27 से 30 साल के हैं। तीन युवकों ने हल्की दाढ़ी रखा था। एक युवक ने लाइनिंग वाली चेक शर्ट और जींस पहना था। दूसरे ने लाल रंग का टीशर्ट और नीला जींस पहना हुआ है। एक आरोपी पतला-दुबला था। बाकी तीनों हष्ट-पुष्ट थे।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।