इलाज के बहाने दंपती को बेहोश कर तांत्रिक ले उड़ा नकदी और गहने

By: Devi Shankar Suthar

Updated On: 10 Sep 2019, 07:40:58 PM IST


  • जिले के अरनोद क्षेत्र के जाजली गांव में तंत्र-मंत्र के नाम पर एक युवक दम्पती को बेहोश कर घर में रखे डेढ़ लाख रुपए नकद और गहने ले गया। दंपती को करीब १८ घंटे बाद होश आया, तब उन्हें वारदात का पता चला। पीडि़त ने इस बारे में अरनोद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी हुई है।


- डेढ़ लाख रुपए की नकदी व जेवर लेकर आरोपी फरार
- पुलिस में दर्ज कराया मामला
प्रतापगढ़
जिले के अरनोद क्षेत्र के जाजली गांव में तंत्र-मंत्र के नाम पर एक युवक दम्पती को बेहोश कर घर में रखे डेढ़ लाख रुपए नकद और गहने ले गया। दंपती को करीब १८ घंटे बाद होश आया, तब उन्हें वारदात का पता चला। पीडि़त ने इस बारे में अरनोद थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी हुई है।
थाना प्रभारी धर्मसिंह मीणा ने बताया कि जाजली गांव के राजेश लोहार ने तांत्रिक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। इसमें बताया गया कि गत कुछ दिनों से उसकी पत्नी किरण बीमार चल रही है। वह उपचार के लिए ३ सितंबर को अरनोद लाया था। उपचार कराने के बाद वापस जाजली लौटते समय पर एक होटल पर एक अज्ञात युवक ने अपने आपको तांत्रिक बताया। उसने झांसे में लेते हुए कहा कि दोनों की बीमारी को ठीक कर देगा। इसके लिए पांच सौ रुपए का सामान लाना होगा।
उसने कहा कि आगामी बुधवार को गांव में घर पर तांत्रिक क्रिया करनी होगी। इस पर राजेश ने पांच सौ रुपए दिए। इस पर तांत्रिक ६ सितंबर को सामान लेकर राजेश लोहार के घर पहुंच गया। यहां पर कुछ क्रिया कर किरण को डोरा पहनाकर चला गया। इसके बाद शाम को तांत्रिक ने राजू को फोन पर जानकारी ली। इसमें कहा कि तबीयत में सुधार होता है तो अगले दिन ७ सितंबर को उतारा करना पड़ेगा। इसके बाद किरण की तबीयत हमेशा के लिए ठीक हो जाएगी। इसके साथ ही कहा कि काम-काज भी अच्छा चलने लगेगा। राजू झांसे में आता गया। इस पर तांत्रिक ने ५ सितंबर सुबह फोन लगाया और कहा कि उतारा शाम को किया जाएगा। इसके लिए वह शाम को जाजली पहुंच जाएगा। वह शाम को उसके घर पहुंचा। जहां तांत्रिक ने शाम को उतारे की क्रिया की। इस दौरान राजू से दो गिलास में पानी मंगाया। उस पर अगरबत्ती लगाकर मंत्र पढऩे लगा।
तांत्रिक ने गिलास में शक्कर व कुछ अन्य वस्तु डाली। इसके बाद एक-एक गिलास पानी राजू और उसकी पत्नी किरण को पिलाया। पानी पीने के कुछ देर बाद दम्पती बेहोश हो गए। इस दौरान तांत्रिक ने घर में पड़े ड्रम, संदूक आदि खोली। ड्रम में रखे डेढ़ लाख रुपए, सोने के दो मंगलसूत्र व 3 किलो चांदी के जेवर लेकर तांत्रिक फरार हो गया। रात करीब दस बजे राजू का भाई जो पास में एक कमरे में रहता है। घर आया तो दोनों सोए हुए मिले। इसके दूसरे दिन ६ सितंबर सुबह राजू की दो छोटी बालिकाएं उठी। जो अलग कमरे में थी। बालिकाओं ने अपने चाचा को कहा कि मम्मी-पापा सोए हुए है। चाय के लिए बाजार से दूध लाना है। इस पर चाचा ने रुपए देकर दूध मंगाया। इसके बाद 11 बजे भी दोनों नहीं उठे तो दोनों बालिकाओंं को भूख लगी। उन्होंने वापस चाचा ने पैसे देकर बिस्किट मंगाकर खिलाए। इसके बाद बालिकाएं खेलने लगी। राजू का भाई यह समझता रहा कि भाभी की तबीयत खराब हैं इसलिए नहीं उठी। राजू कहीं बाहर गया होगा। शाम करीब 4 बजे राजू को होश आया। घर पर गैंस का सिलेण्डर खत्म था। इसके लिए उसने रुपए लेने के लिए ड्रम की तरफ देखा तो ड्रम में से सब कुछ गायब थे। संदूक में से गहने आदि भी गायब मिले। इस पर राजू ने अरनोद थाने पहुंच कर तांत्रिक के खिलाफ मामला दर्ज कराया। पुलिस ने मामला दर्जकर जांच शुरू कर दी है।
सीसीटीवी फुटेज पर नजर
पुलिस ने मामले की संदिग्धता को देखते हुए जांच शुरू की है। जाजली गांव में लगे सीसीटीवी कैमरों का भी खंगाला जा रहा है। जिसमें घटना के दिन और पहले के सीसीटीवी फुटेज मंगवाए है। जिसमें आरोपी तांत्रिक की पहचान कर तलाश की जा रही है।

Updated On:
10 Sep 2019, 07:40:57 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।