विधायक ने तुड़वाया अनशन, कहा- नहीं माना प्रशासन तो मुख्यमंत्री स्तर पर करेंगे बात

By: Ram Sharma

Updated On:
25 Aug 2019, 09:44:19 PM IST

  • देवगढ़ को पंचायत समिति बनाने की मांग : पांच अनशनकारियों की तबीयत बिगड़ी, अब तक नौ हो चुके बीमार(pratapgarh news)


प्रतापगढ़. जिले की उप तहसील देवगढ़ को पंचायत समिति बनाने को लेकर मिनी सचिवालय के सामने चल रहे आमरण अनशन को रविवार शाम को विधायक रामलाल मीणा ने तुड़वाया। उन्होंने देवगढ़ को पंचायत समिति बनाने की मांग का समर्थन करते हुए कहा कि इस मामले में प्रशासन का अडियल रवैया है। वे मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से बात करेंगे और देवगढ़ को पंचायत समिति का दर्जा दिलवाने का भरसक प्रयास करेंगे। इससे पहले धरनास्थल पर पांच अनशनकारियों की तबीयत बिगड़ गई थी। अब तक नौ लोगों की तबियत अनशन के चलते खराब हो चुकी थी।
विधायक मीणा खुलकर आंदोलनकारियों के समर्थन में आए और अपनी ही सरकार के प्रशासन के खिलाफ बयानबाजी की। वे बोले कि यदि जनता की बात नहीं सुनी तो प्रशासन को इसके परिणाम भुगतने को तैयार रहना होगा। विधायक शाम को अनशनस्थल पर गए। वहां आंदोलनकारी नेताओं को जूस पिलाकर अनशन तुड़वाया।
इससे पहले मिनी सचिवालय के सामने चल रहे अनशन में रविवार सुबह पांच धरनार्थियों की तबीयत बिगड़ गई थी पांचों को जिला चिकित्सालय ले जाया गया। जहां से चार को उपचार के बाद छुट्टी गई। जबकि एक की तबीयत अधिक खराब होने से भर्ती किया गया है। वहीं दूसरी ओर आंदोलनकारियों ने चेतावनी दी कि जब तक देवगढ़ को पंचायत समिति बनाने की घोषणा नहीं की जाती, तब तक यह अनशन जारी रहेगा, लेकिन रविवार को देर शाम विधायक रामलाल मीणा ने धरना स्थल पर जाकर समझाइश की और जूस पिलाकर आंदोलकारियों का अनशन तुड़वाया।
प्रस्तावित रैली निरस्त: विधायक ने लोगों को आश्वासन दिया था कि वे इस मामले में मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री से बात करेंगे। इस मामले में ग्रामीणों की ओर से सोमवार को शहर में रैली निकाली जानी थी जिसे निरस्त कर दी गई।
गौरतलब है कि सरकार की ओर से गत दिनों पंचायतीराज पुनर्गठन प्रक्रिया के दौरान देवगढ़ की बजाय बारावरदा को पंचायत समिति मुख्यालय बनाया गया। जिससे देवगढ़ क्षेत्र के लोगों ने नाराजगी जताई। इसके साथ ही 19 अगस्त से यहां धरना शुरू किया गया। जबकि 22 अगस्त से अनशन शुरू किया गया है। जिसमें जनप्रतिनिधि और ग्रामीण कुल 18 लोग अनशन पर बैठे हुए थे। ऐसे में यहां पांच और लोगों की तबीयत बिगड़ गई। सूचना पर पांचों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। जिसमें चार लोगों को छुट्टी दे दी गई। जबकि चिकलाड़ के पूर्व सरपंच लालूराम मीणा को अस्पताल में भर्ती कराया लेकिन बाद में उन्हें भी छुट्टी दे दी गई।
21 पंचायतों का समर्थन :देवगढ़ को पंचायत समिति बनाने में क्षेत्र की 21 ग्राम पंचायतों का समर्थन है। संघर्ष समिति के दिग्विजयसिंह चिकलाड़, पंचायत समिति सदस्य महेश प्रजापत ने बताया कि यहां धरने में देवगढ़, समली पठार, चिकलाड़, खूंटगढ़, जोलर, मंगरी, देवपुरा, ग्यासपुर, नकोर, टीला, जांबुखेड़ा, बिहारा, पाल, मांडकला, लुहारिया, करमदीखेड़ा, बड़ी लांक, अचलपुरा, रामपुरिया, धारियाखेड़ी, रतनपुरिया ग्राम पंचायतें शामिल है।
विधायक ने प्रशासन व सरकार को दी चेतावनी
विधायक रामलाल मीणा ने कहा कि प्रशासन की ओर से अडियल रवैया अपनाते हुए पंचायत समिति पुनर्गठन देवगढ़ का नाम नहीं दिया गया। विधायक ने कहा कि देवगढ़ क्षेत्र मेरी जन्म भूमि है। अगर यहां भी काम नहीं होता है तो में ग्रामीणों के साथ मिलकर इन की मांग के लिए कुछ भी करते को तैयार हूं। इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा कि यदि जनता की बात नहीं सुनी गई तो प्रशासन को परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना होगा।
आज बारावरदा बंद का आह्वान
बैठक में किए कई निर्णय
बारावरदा. पंचायत समिति के प्रशासन के निर्णय के समर्थन में मंगलवार को बारावरदा बंद रहेगा। निर्णय को यथास्थिति रखने को लेकर ज्ञापन दिया जाएगा। मंगलवार बारावरदा स्वैच्छिक बंद रखकर ज्ञापन सौंपने का निर्णय लिया गया। बारावरदा पंचायत समिति संघर्ष समिति के दीपककुमार सविता ने बताया कि प्रशासन द्वारा प्रस्तावित बारावरदा पंचायत समिति बनाने के निर्णय को देखते हुए कुछ लोगों द्वारा इसे निरस्त करने का प्रयास किया जा रहा है। बैठक में ग्रामवासी एवं पंचायतों के जनप्रतिनिधि गोपाल मीणा सरीपीपली, सरपंच गंगाराम मीणा मधुरा तालाब सरपंच, मेरियाखेड़ी देवीलाल मीणा, पूर्व सरपंच बारावरदा रामलाल मीणा, सरपंच नाजूराम मीणा, लालचंद गुर्जर, संपतदेवी मेघवाल, शिवनारायण गुर्जर, गणपत गुर्जर सभी वार्ड पंच आदि मौजूद रहे।

Updated On:
25 Aug 2019, 09:44:19 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।