सीताराम येचुरी ने मोदी और शाह पर कसा तंज, पूछा- आपको दुर्योधन और दुश्‍सासन का ही नाम क्‍यों याद है?

By: Dhirendra Kumar Mishra

Updated On: Apr, 26 2019 12:18 PM IST

    • सीताराम येचुरी ने मोदी और शाह की तुलना दुर्योधन और दुश्‍सासन से की
    • राजनीति के इन कौरवों का भी वही हाल होगा जो दोनों भाईयों का हुआ
    • सीपीआई-एम महासचिव की नजर में चुनाव में पीएम मोदी को हराना सबसे बड़ा मुद्दा

नई दिल्‍ली। कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्‍सवादी) के महासिचव सीताराम येचुरी ने पश्चिम बंगाल में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अमित शाह पर तंज कसा। उन्‍होंने कहा कि महाभारत के 100 कौरवों में से आपको केवल दो भाईयों का ही नाम क्‍यों याद है? दुर्योधन और दुश्‍सासन के अलावा आप कितने कौरव भाईयों का नाम जानते हैं?

PM मोदी की बायोपिक पर आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला, 19 मई तक है फिल्‍म की रिलीज पर रोक

इनका भी वही हाल होगा जो कौरवों का हुआ

सीपीआई महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा कि दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के अंदर भी कौरव भाईयों वाला हाल है। उन्‍होंने जनसभा में उपस्थिति लोगों से पूछा कि आपको दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी के कितने लोगों के नाम यादव हैं? दरअसल, महाभारत में जो नौबत कौरवों की हुई वही हाल अब राजनीतिक महाभारत में जारी है। भारतीय लोकतंत्र के दुर्योधन और दुश्‍सासन का भी वही हाल होने वाला है।

कन्‍हैया कुमार ने गिरिराज पर साधा निशाना, कहा- 'बेगूसराय के लोग मुद्दों पर करेंगे वोट'

पीएम मोदी को हराना सबसे बड़ा मुद्दा

दो दिन पहले कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्‍सवादी) के महासचिव सीताराम येचुरी ने बिहार के बेगूसराय संसदीय क्षेत्र में सीपीआई उम्‍मीदवार कन्‍हैया कुमार के समर्थन में लोगों को संबोधित करते हुए कहा था कि किसी तरह पीएम मोदी को हराना इस चुनाव का सबसे बड़ा मुद्दा है। पिछले पांच साल में देश का हर व्‍यक्ति गंभीर समस्‍याओं से घिर गया है। इसलिए भाजपा को हराना हमारा एजेंडा है।

Published On:
Apr, 26 2019 09:32 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।