पीएम मोदी के हेलीकॉप्टर की जांच करने वाले IAS अधिकारी के निलंबन पर रोक, EC ने की अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश

By: Shweta Singh

Updated On: Apr, 26 2019 11:06 AM IST

    • केंद्रीय प्रशासनिक न्यायाधिकरण ने निलंबन पर रोक लगाया
    • चुनाव आयोग ने अगले आदेश तक चुनावी ड्यूटी पर रोक लगाया
    • साथ ही अनुशासनात्मक कार्रवाई की सिफारिश की

नई दिल्ली। ओडिशा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हेलीकॉप्टर की चेकिंग करने वाले IAS अधिकारी मोहम्मद मोहसिन ( Mohammed Mohsin ) के लिए चुनाव आयोग ( Election Commission ) ने नई कार्रवाई की है। अब आयोग ने अगले आदेश तक उनकी चुनावी ड्यूटी पर रोक लगाने का निर्देश जारी किया है। साथ ही उनपर अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की भी सिफारिश की है। बता दें कि इससे पहले 17 अप्रैल को उन्हें निलंबित कर दिया गया था।

निलंबन पर लगाया रोक

1996 बैच के कर्नाटक कैडर के आईएएस अधिकारी मोहसिन पर्यवेक्षक के तौर पर ओडिशा में तैनात थे। मोहसिन ने ओडिशा के संबलपुर में प्रधानमंत्री के हेलीकॉप्टर की जांच की थी, जिसे SPG सुरक्षा प्राप्त लोगों से पेश आने के नियमों का 'उल्लंघन' बताया जाता है। गुरुवार को केंद्रीय प्रशासनिक न्यायाधिकरण ( central administrative tribunal ) ने उनके निलंबन पर रोक लगाने का फैसला सुनाया है। जिसके बाद निर्वाचन आयोग ने उनके खिलाफ यह सिफारिशें की।

यह भी पढ़ें- दिल्ली: गांजा तस्करी करती थी लड़की, कई सालों तक भागने के बाद जब हुई गिरफ्तार तब बन चुकी थी नेशनल लेवल की खिलाड़ी

विपक्ष ने उठाए थे कार्रवाई पर सवाल

बता दें कि पिछले हफ्ते पीएम मोदी ओडिशा के संबलपुर में एक रैली के लिए पहुंचे थे। मोहसिन ने रैली से पहले उनके हेलीकॉप्टर की जांच की थी। उनके इस कदम पर चुनाव आयोग ने संबलपुर में अपने महापर्यवेक्षक को निलंबित किया था। विपक्षी दलों ने आयोग के इस फैसले पर जमकर विरोध जताया था, और अपनी नाराजगी जाहिर थी। विपक्षी नेताओं की दलील थी कि ऐसा कोई नियम नहीं है, जिसके मुताबिक चुनाव के दौरान किसी को भी चेकिंग से इस तरह की चेकिंग से छूट दी जाए। कांग्रेस ने सीधे पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोहसिन सिर्फ अपनी ड्यूटी कर रहे थे, उन्हें आखिर क्यों हटाया गया। कांग्रेस ने यह तक कहा कि आखिर पीएम मोदी अपने हेलीकॉप्टर में ऐसा क्या लेकर जा रहे थे जो देश से छिपाना चाहते थे।

Indian Politics से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Published On:
Apr, 26 2019 11:05 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।