कलयुग मेें मोक्ष प्राप्ति का ये है आसान रास्ता, यहां पढ़े पुरी खबर

By: Tanvi Sharma

Published On:
Jul, 05 2018 02:18 PM IST

  • कलयुग मेें मोक्ष प्राप्ति का ये है आसान रास्ता, यहां पढ़े पुरी खबर

ओड़िशा राज्य के खूबसूरत शहर में से एक हैं पुरी। पुरी शहर भगवान जगन्नाथ के मंदिर के लिए पूरे विश्व में मशहूर है। पुरी शहर भुवनेश्वर से 60 किमी की दूरी पर बसा हुआ है। पुरी शहर खूबसूरत होने के साथ-साथ व्यापारिक केंद्र भी है। यहां का रेल टर्मिनल और पर्यटन स्थल भी बहुत अच्छा है। शहर में दूर तक फैला समुद्र इसकी खूबसूरती में चार चांद लगा देता है। वहीं पर्यटकों को भी यह बेहद पसंद है, पर्यटकों की भीड़ इस जगह उमड़ी ही रहती है। क्योंकि यहां श्रद्धालु हजारों मीलों दूर चलकर भगवान जगन्नात के दर्शन के लिए आते हैं। ऐसा माना जाता है कि पुरी भारत के सात सबसे पवित्र स्थानों में से एक है। जगन्नाथ मंदिर पुरी हिन्दुओं के प्रमुख तीर्थ स्थलों में से एक है। यहां जगन्नाथ जी के प्राचीन और ऐतिहासिक मंदिर स्थित हैं जो दर्शनीय हैं। स्थापित जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा की प्रतिमाओं के दर्शन करने के लिए बड़ी दूर-दूर से लोग आते यहाँ हैं। ओड़िशा के सबसे बड़े और सबसे मशहूर मंदिरों में से एक जगन्नाथ मंदिर है। वैसे तो यहां आप देश के किसी भी राज्य से आसानी से पहुंच सकते हैं। आप यहां पहुंचने के लिए रेल मार्ग, वायु मार्ग या सड़क के मार्ग से आसानी से पहुंच सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे पहुंचे जगन्नाथ धाम

 

jagannath yatra

समुद्र तट पुरी के समुद्र तट का खूबसूरत नज़ारा और दूर दूर तक फैला सौंदर्य वास्तव में लाजवाब है। इस तट पर सूर्योदय के समय झिलमिलाती सूर्य की किरणें ऐसी विपरीत होती हैं मानों समुद्र में इंद्रधनुषी छटा बिखेर रही हों। सूर्योदय के समय समुद्र का दिलकश नज़ारा देखने लायक होता है। यहाँ का अद्भुत नज़ारा देख पर्यटक मंत्रमुग्ध हो जाते हैं।

 

jagannath yatra

वायु मार्ग से पुरी कैसे पहुंचे

वायु मार्ग के द्वारा आपके लिए भुवनेश्वर हवाई अड्ड़ा सबसे निकटतम हवाई अड्ड़ा है। पुरी से भुवनेश्वर पहुंचने में एक घंटे का समय लगता है, यह लगभग 56 किमी दूर स्थित है। भुवनेश्वर हवाई अड्ड़ा भारत के तथा ओड़िशा के अन्य हिस्सों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। हवाई अड्ड़े से पुरी के लिए बसों तथा टैक्सियों की सेवा उपलब्ध है।

रेल मार्ग से पुरी कैसे पहुंचे

पुरी में एक रेलवे स्टेशन है। पुरी से ओड़िशा के प्रमुख स्थानों के लिए एवं भारत के अन्य शहर जैसे कोलकाता, नई दिल्ली, गुवाहाटी, बंगलौर, चेन्नई, आदि के लिए सीधी रेल गाड़ियों की सेवा उपलब्ध है। कई ट्रेनें भारत के अन्य कोनों को ओडिशा से जोड़ती हैं। रेल से ओडिशा की प्राकृतिक सुंदरता का आनंद उठाया जा सकता है। यात्रा सुविधाजनक भी है और आरामदेह भी।

सड़क मार्ग द्वारा पुरी कैसे पहुंचे

पुरी शहर अच्छी सड़कों से जुड़ा हुआ है। सरकारी तथा निजी बसों की सेवा ओड़िशा के प्रमुख शहरों से तथा कोलकाता से उपलब्ध है। शहर की सैर के लिए तथा पुरी में अन्य पर्यटन क्रियाकलापों के लिए ओड़िशा पर्यटन विकास निगम(ओ.टी.ड़ी.सी) की ड़ीलक्स बसों की सेवा उपलब्ध है। इस वजह से जिन्हें सड़क पर लंबी यात्राएं करने का शौक है, उनके लिए ओडिशा पहुंचना ज्यादा आसान है। ओडिशा में सड़कों का व्यापक नेटवर्क है। इससे ओडिशा के कोने-कोने तक सड़क मार्ग से पहुंचा जा सकता है। इन मार्गों पर रोज अपने समय अनुसार बस सेवा चलती है।

Published On:
Jul, 05 2018 02:18 PM IST