बिहार में छह लाख किसानों को नहीं मिल पाएगा योजना का लाभ

By: Navneet Sharma

Updated On: 24 Aug 2019, 05:14:48 PM IST

  • Bihar news: बिहार में बड़ी संख्या में किसान पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ ले पाने से वंचित रह जाएंगे।

पटना,प्रियरंजन भारती. बिहार के 6.25लाख किसानों(Farmers) को पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ नहीं मिल पाएगा।तकनीकी कारणों से इन किसानों के आवेदन रद्द कर दिये गये हैं। हालांकि साढ़े चार लाख किसानों के आवेदनों की जांच अभी विभिन्न स्तरों पर जारी है।
जिन किसानों के आवेदन रद्द किये गये उनमें अधिकांश ऐसे थे जो एक ही परिवारों से ताल्लुक रखते थे।सबसे अधिक आवेदन प्राथमिक जांच के दौरान कृषि समन्वयक के स्तर पर ही रद्द कर दिये गये।पूरे राज्य में लगभग तीन लाख 34हजार आवेदन इस स्तर की जांच में रद्द किए गये हैं।दो लाख अस्सी हजार आवेदन अंचलाधिकारी के स्तर पर और करीब बारह हजार आवेदन अपर समाहर्ता स्तर पर रद्द किये गये।सरकार का दावा है कि किसान यदि फिर से आवेदन करते हैं तो उन पर पुनः विचार किया जाएगा।
राज्य में पीएम किसान सम्मान योजना(PM kisan samman yojna) का लाभ लेने वाले किसानों की संख्या बढ़ती जा रही है।पहले वर्ष 42लाख किसानों ने आवेदन किया जबकि इस वर्ष आवेदकों की संख्या बढ़कर 52लाख हो गई है।यह संख्या दो हेक्टेयर जमीन की सीमा हटाए जाने के कालण बढ़ी है।यह संख्या अभी और बढ़ सकती है।इसलिए कि राज्य में निबंधित किसानों की संख्या 86लाग65हजार है।जिन 52.06लाख किसानों ने आवेदन किए उनमें से 40.16लाख आवेदन केंद्र को भेजे जा चुके हैं।
कृषि मंत्री डॉ प्रेम कुमार ने बताया कि पीएम किसान सम्मान योजना में 25लाख 63हजार किसानों के खाते में योजना की पहली और 24लाख 17हजार524किसानों के खिते में दूसरी किस्त की राशि भेजी जा चुकी है।योजना का लाभ लेने में सारण जिला सबसी अव्वल है।यहां तीन लाग दस हजार किसानों ने आवेदन किया और दो लाख 57हजार से अधिक किसानों को इसका लाभ मिल गया है।

 

Updated On:
24 Aug 2019, 05:14:47 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।