VIDEO : बाड़मेर के रास्ते बिना पासपोर्ट व वीजा के पाकिस्तान में घुस गया...कौन...पढ़ें पूरी खबर

By: Suresh Hemnani

Updated On: 24 Aug 2019, 08:24:45 PM IST

  • -राजस्थान के पानी से सिंचित होगी पाकिस्तान की जमीन

    Luni river water reached Pakistan :
    -पाकिस्तान पहुंचा लुनी का पानी

चितलवाना/जालोर। Luni river water reached Pakistan : जम्मू कश्मीर [ Jammu Kashmir ] में अनुच्छेद 370 [ Article 370 ] हटाने के बाद से भारत व पाकिस्तान [ India and Pakistan ] के बीच में तनाव चल रहा। इसी बीच लुनी नदी [ Luni River ] का पानी शनिवार को सरहद पार कर पाकिस्तान पहुंच गया। यह पानी चितलवाना [ Chitlwana ] के अंतिम छोर खेजडिय़़ाली से आगे पांच किमी बाड़मेर की सीमा से होते हुए पाकिस्तान में गया है। लुनी नदी अजमेर की पहाड़ी से निकलती है। जो राजस्थान के विभिन्न जिलों से होते हुए पाकिस्तान जाती है। इस नदी के पानी का उपयोग सरहद पार खेती में किया जाता है। इस पानी के वहां पहुंचने से क्षेत्र में भूजल स्तर भी बढ़ता है।

कच्छ के रण तक जाता है पानी
लुनी नदी का पानी पाकिस्तान से बहता हुआ वापस गुजरात की सीमा [ Range of Gujarat ] से फिर भारत में प्रवेश कर कच्छ के रण में आता है। कच्छ के रण तक इस पानी को पहुंचने में करीब दो दिन का समय लगता है। अभी पानी का वेग कम है। इस कारण इसके वापस कच्छ तक पहुंचने की संभावना कम है।

पाकिस्तान में गया पानी
लुनी नदी का पानी बाड़मेर की सीमा [ Border of barmer ] से पाकिस्तान में चला गया हे। पानी का वेग कम होने से यह अधिक दूरी तय नहीं कर सकेगा। -पेमाराम, कार्यवाहक उपखण्ड अधिकारी, चितलवाना

Updated On:
24 Aug 2019, 06:20:47 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।