जमीन मालिकों को जल्द मिलेंगे राहत, अब अपंजीकृत बेचान-मुख्तियार दस्तावेज से भी मिलेगा पट्टा

By Suresh Hemnani

|

15 Feb 2020, 12:46 PM IST

Pali, Pali, Rajasthan, India

पाली। भूखण्ड व जमीन मालिकों के लिए राहत भरी खबर है। सरकार ने जमीनों के अपंजीकृत दस्तावेज (बेचान-मुख्तियार) से भी पट्टा जारी करने के लिए आवेदन की तिथि दिसम्बर 2020 तक बढ़ा दी है। इससे हजारो लोग अपनी जमीन का पंजीकृत दस्तावेज से भी पट्टे बना सकेंगे।

पहले आवेदन तिथि वर्ष 2018 तक ही थी, इसलिए अटके थे पट्टे
जमीनों के दस्तावेज को बेचने पर उप पंजीयन कार्यालय पर रजिस्ट्री करवाई जाती है। फिर उसके आधार पर नगर निकाय पट्टा जारी करती है। कई बार क्रेता व विक्रेता जमीन के दस्तावेज की रजिस्ट्री न करवाकर स्टाम्प पेपर पर बेचान-आम मुख्तियार व वसीयत लिखवा देते है, इस दस्तावेज को पंजीकृत भी नहीं करवाते। केवल नोटरी पब्लिक से नोटरी ही करवाकर काम चलवा लेते है। सरकार ने ऐसे आवेदन से पट्टे जारी करने के लिए आवेदन तिथि दिसम्बर 2018 रखी थी। इसके बाद ऐसे आवेदन से पट्टे जारी करने पर रोक लगा दी थी। इससे बड़ी संख्या में पट्टे अटक गए थे। पाली विधायक ज्ञानचंद पारख ने यह मुद्दा विधानसभा में उठाया, इस पर सरकार ने राहत देते हुए ऐसे दस्तावेज से पट्टे बनाने के लिए किए जा रहे आवेदन की तिथि दिसम्बर 2020 तक बढ़ा दी है। नियमन कॉलोनियों में आई जमीनों के पट्टे नगर निकाय जारी करेगी।

पाली में पार्षदों ने दिया था धरना
नगर परिषद पाली में अपंजीकृत दस्तावेज से पट्टे जारी नहीं करने के विरोध में तत्कालीन पार्षद किशोर सोमनानी सहित अन्य पार्षद धरने पर बैठे थे। अब परिषद ऐसे दस्तावेज से पट्टे जल्द से जल्द जारी करेगी।

राह खुली, आवेदन तिथि बढ़ी
जमीनों के अपंजीकृत दस्तावेज के पट्टे बनाने के लिए आमजन आवेदन कर सकता है। इसके आवेदन की तिथि 31 दिसम्बर 2020 तक बढ़ा दी गई है। पाली नगर परिषद में फिलहाल ऐसे दस्तावेज से 50 फाइलें आई हुई है। जल्द ही पट्टा प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। - आशुतोष आचार्य, आयुक्त, नगर परिषद, पाली।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।