ISSF world Championship : स्कीट टीम जूनियर में भारत को रजत

By: Siddharth Rai

Published On:
Sep, 11 2018 04:27 PM IST

  • मंगलवार को पुरुषों की स्कीट जूनियर टीम स्पर्धा में रजत पदक हासिल हुआ। गुरनिहाल सिंह गारचा, आयुष रुद्रराजु और अनात जीत सिंह की भारतीय टीम ने फाइनल स्पर्धा में कुल 355 अंक हासिल किए।

नई दिल्ली। दक्षिण कोरिया के चांगवोन में जारी 52वीं आईएसएसएफ विश्व चैम्पियनशिप में भारतीय निशानेबाजों का शानदार प्रदर्शन जारी है। यहां मंगलवार को पुरुषों की स्कीट जूनियर टीम स्पर्धा में रजत पदक हासिल हुआ। गुरनिहाल सिंह गारचा, आयुष रुद्रराजु और अनात जीत सिंह की भारतीय टीम ने फाइनल स्पर्धा में कुल 355 अंक हासिल किए।

स्कीट जूनियर टीम स्पर्धा में रजत पदक
फाइनल में गुरनिहाल ने 119, आयुष वे 119 और अनात सिंह ने 117 अंक हासिल किए। ऐसे में भारत ने कुल 355 अंक हासिल करने के साथ दूसरा स्थान प्राप्त किया और रजत पदक पर कब्जा जमाया। इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक चेक गणराज्य की टीम को हासिल हुआ। चेक गणराज्य ने कुल 356 अंकों के साथ पहले स्थान पर कब्जा जमाया। इटली की टीम ने कुल 354 अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल कर कांस्य पदक अपने नाम किया। इस से पहले जूनियर 10 मीटर एयर राइफल इवेंट में भारत के युवा निशानेबाज हृदय हजारिका ने स्वर्ण पदक जीता था। 16 साल के हृदय फाइनल के लिए क्वॉलिफाइ करने वाले अकेले भारतीय थे। उन्होंने 627.3 का स्कोर कर फाइनल में जगह बनाई थी।

भारतीय महिला 10 मीटर एयर राइफल में बनाया रिकॉर्ड
वहीं भारतीय महिला 10 मीटर एयर राइफल टीम ने 188.7 के स्कोर के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। भारतीय महिला 10 मीटर एयर राइफल टीम ने 188.7 के स्कोर के साथ वर्ल्ड रेकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। भारतीय टीम में शामिल इलावेनिल वालारिवान (631), श्रेया अग्रवाल (628.5) और मानिनी कौशिक (621.5) ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। जूनियर वर्ल्ड कप गोल्ड मेडलिस्ट इलावेनिल ने नया जूनियर विश्व रेकॉर्ड भी बनाया। गौरतलब है कि इसके एक दिन पहले एशियन गेम्स 2018 के गोल्ड मेडलिस्ट सौरभ चौधरी ने जूनियर 10 मीटर एयर पिस्टल में गोल्ड मेडल जीता। 16 साल के सौरभ ने तीसरे स्थान पर रहते हुए 581 अंकों के साथ फाइनल में जगह बनाई थी। उन्होंने इसके बाद फाइनल में शानदार प्रदर्शन करते हुए जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक पर कब्ज़ा जमाया। युवा निशानेबाज ने अपना आखिरी शॉट 10 नहीं मारा लेकिन फिर भी वह कुल 245.5 अंकों के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड को आसानी से तोड़ने में कामयाब रहे।

Published On:
Sep, 11 2018 04:27 PM IST