जानिए कब से शुरू होगा हिंदू नव वर्ष आैर कब से मनाया जाता है

  • मंदिरों से लेकर सोसायटी आैर स्कूलों में कराया जाता है आयोजन
नोएडा।नवरात्र के साथ ही मंगलवार से हिंदू नववर्ष की भी शुरुआत होगी।इसके लिए सोमवार से ही बाजार से लेकर माॅल तक सज गये है।वहीं लोग भी पूजा अर्चना को लेकर सामान जुटाने में लगे है।उधर कुछ लोग नवरात्र के साथ हिंदू नववर्ष को लेकर हमेशा संशय में रहते है।आपके इसी संशय को दूर करने के लिए हम बताते है क्या आैर कब से शुरू होता है हिंदू नववर्ष।इसमें क्या खास होता हैं। 
 
जानिए की क्या हैं विक्रम संवत के अनुसार ही मनाया जाता है हिंदू नववर्ष 

मेरठ के बिलेश्वर नाथ मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित हरीश जोशी ने बताया कि भारतीय पंचांग और काल निर्धारण का आधार विक्रम संवत हैं। इसकी शुरुआत मध्य प्रदेश की उज्जैन नगरी से हुई थी।यह कैलेन्डर राजा विक्रमादित्य के शासन काल में जारी हुआ था।इसलिए इसे विक्रम संवत के नाम से जाना जाता हैं।इसी के अनुसार हर वर्ष नवरात्र के पहले दिन से ही हिंदू नववर्ष की शुरुआत होती है।इसके लिए मंदिर में तैयारियों से लेकर भक्त भी लग जाते है।

जीत के बाद विक्रमादित्य जारी किया था भारतीय कैलेंडर

विक्रमादित्य ने जीत के बाद जब राज्यारोहण हुआ। तब उन्होंने प्रजा के तमाम ऋणों को माफ करने का ऐलान किया। आैर नए भारतीय कैलेंडर को जारी किया, इसे विक्रम संवत नाम दिया गया।ईसा पूर्व 57 में जारी किया गया। विक्रम संवत आज तक भारतीय पंचाग और काल निर्धारण का आधार बना हुआ हैं। इसी कलेंडर के अनुसार ही हिंदू नववर्ष से लेकर नवरात्र मनाये जाते है।

हिंदू नववर्ष को लेकर स्कलों में आयोजित होगा मेला

हिंदू नववर्ष की शुरुआत होते ही मंदिर से लेकर स्कूल आैर सोसायटियों में आयोजन किया जाता है। इसी के तहत ग्रेटर नोएडा के विक्ट्री वल्डर् स्कूल में हिंदू नववर्ष को लेकर रविवार को मेले आयोजित किया गया।इसमें साधू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता स्वामी यतींद्रानंद गिरी महाराज पहुंचे।उन्होंने यहां हिंदू की सनातन सभ्यता संस्कार को बचाने पर जोर देने के साथ ही प्रवचन दिये।उन्होंने इस अवसर पर राम मंदिर के मुद्दे पर भी कहा कि वैज्ञानिक तौर पर सिद्घ हो चुका है कि अयाेध्या में पहले राम मंदिर था, लेकिन इसके बाद भी लोग विवादों में उलझे है।
खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।