लाल नहीं नीला होता है इस जानवर का खून, कीमत इतनी की जानकर दंग रह जाएंगे आप

Patrika 1529599916

नई दिल्ली: इंसान अपने फायदे के लिए क्या-क्या करता है। किसी की भी जान से खिलवाड़ करना उसके लिए कोई बड़ी बात नहीं है। दरअसल, नॉर्थ अमेरिका के समुद्र में पाए जाने वाले एक केकड़े का खून अमृत के समान माना जाता है। इस केकड़े को हॉर्सशू कहा जाता है। आपको ये जानकर हैरानी होगी कि ये खून लाल नहीं बल्कि नीला होता है।

केकड़ों की जान का दुश्मन बना नीला खून


बता दें, ये केकड़ा बिल्कुल घोड़े की नाल की तरह दिखाई देता है। केकड़े की ये प्रजाति करीब 45 करोड़ सालों से पृथ्वी पर है। मेडिकल साइंस में इस केकड़े का खून इसकी एंटी बैक्टीरियल प्रॉपर्टी की वजह से इस्तेमाल किया जाता है। ऐसे में केकड़े का नीला खून ही अब उसके अस्तित्व के लिए खतरा बन गया है या यूं कहें कि यही खून उनकी जान का दुश्मन बन गया है।

हीमोग्लोबिन की जगह होता है ये चीज

इन केकड़ों के खून में हीमोग्लोबिन की जगह कॉपर बेस्ड हीमोस्याइनिन होता है, जो ऑक्सीजन को शरीर के सारे हिस्सों में ले जाता है।

10 लाख रुपए प्रति लीटर बिकता है नीला खून

इसका नीला खून शरीर के अंदर इंजेक्ट कर दी जाने वाली दवाओं में खतरनाक बैक्टीरिया की पहचान करता है। खतरनाक बैक्टीरिया के बारे में ये एकदम सटीक जानकारी देता है। इसी खासियत की वजह से इसके खून की कीमत करीब 10 लाख रुपए प्रति लीटर बताई जाती है। खून के लिए ही हर साल 5 लाख से भी ज्यादा केकड़ों को मार दिया जाता है।

बेहद खौफनाक है खून निकालने की प्रक्रिया

केकड़ों से खून निकालने की प्रक्रिया बेहद खौफनाक होती है। जिंदा केकड़ों को स्टैंड में फिट कर उनके मुंह में सिरिंज से पाइप के जरिए धीरे-धीरे खून निकाला जाता है। इस प्रक्रिया के दौरान ज्यादा खून निकल जाने के कारण केकड़ों की मौत हो जाती है। वहीं, जो जीवित बच जाते हैं उन्हें वापस पानी में छोड़ दिया जाता है।

Related Stories