Hillary Clinton ने ट्रंप पर लगाए गंभीर आरोप, कहा-गलत नीतियों के कारण चीन आक्रामक हो रहा

Patrika 1595432839

वाशिंगटन। अमरीकी राष्ट्रपति चुनाव करीब है। ऐसे में डेमोक्रैट्स और रिपब्लिकंस के बीच तीखी बयानबाजी देखने को मिल रही है। अमरीका की पूर्व विदेश मंत्री रह चुकीं हिलेरी क्लिंटन का कहना है कि एशिया के कई पड़ोसी देशों के साथ चीन के आक्रामक रवैये के दोषी ट्रंप हैं। ट्रंप प्रशासन की गलत नीतियों के कारण चीन आज अपने पड़ोसी देशों के साथ आक्रामक रवैया अख्तियार कर रहा है। क्लिंटन ने इसमें भारत को भी शिकार बताया है।

एशिया के कई पड़ोसी देशों के साथ चीन के आक्रामक रवैये को लेकर हिलेरी क्लिंटन ने ट्रंप प्रशासन को दोषी ठहराया है। अमरीका की पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन का कहना है कि ट्रंप प्रशासन की गलत विदेश नीतियों के कारण चीन आज अपने पड़ोसी देशों के साथ आक्रामक रवैया अपना रहा है। क्लिंटन ने इसमें भारत को भी शिकार बताया।

साल 2016 का राष्ट्रपति चुनाव हार चुकीं क्लिंटन का कहना है कि रूस और चीन ट्रंप प्रशासन की कमजोर विदेश नीतियों का फायदा उठा रहे हैं। हालांकि, ट्रंप प्रशासन का दावा है कि उसने जितनी सख्ती चीन पर दिखाई है,वह अब तक कभी नहीं हुई। इससे पहले की अमरीकी सरकारों ने ऐसा कुछ नहीं किया है। हिलेरी क्लिंटन के अनुसार दुनिया में ट्रंप प्रशासन ने ऐसी अव्यवस्था फैलाई है, जिसका असर देखने को मिल रहा है।

गौरतलब है कि चीन उइगरों के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। दूसरे देशों में जासूसी कर रहा है। दक्षिण चीन सागर में धौंस जमाने की कोशिश कर रहा है और भारत के साथ सीमा पर विवाद में उलझ रहा है। गौरतलब है कि 5 मई के बाद से भारत और चीन की सेनाएं वास्तविक नियंत्रण रेखा पर एक दूसरे के सामने हैं।

बीते कई महीनों से खासकर जून में स्थिति काफी गंभीर हो गई। दोनों देशों की सेनाओं में हिंसक झड़प हुई। जिसमें भारत के 20 जवानों की जान चली गई। इसके बाद चीन ने दक्षिण चीन सागर में अमरीका के साथ और पूर्वी चीन सागर में कई देशों के साथ पंगा लिया। चीन का कहना है कि पूरे दक्षिण चीन सागर पर उसका दावा है। इसके खिलाफ वियतनाम, फिलीपिंस, मलेशिया, ब्रुनेई और ताइवान ने नाराजगी जताई है।

Related Stories