सर्जिकल स्ट्राइक के बाद 300 बार फायरिंग कर चुका है पाकिस्तान

Miscellenous India

पाकिस्तानी सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय सीमा कई बार आम लोगों को निशाना बनाने की कोशिश की है।

नई दिल्ली। पाकिस्तानी सेना ने सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय सीमा कई बार आम लोगों को निशाना बनाने की कोशिश की है। 29 सितंबर को भारतीय सेना ने पीओके में कई आतंकी लॉन्च पैड ध्वस्त कर दिए थे। सरकारी अधिकारियों ने गुरुवार को बताया कि उसके बाद से ही पाकिस्तान भारत पर हमला करने का प्लान बना रहा है।

पिछले पांच सप्ताह में 500 बार तोड़ा सीजफायर

अधिकारियों ने बताया कि पाकिस्तान ने अपनी सेना को आदेश दिए हैं कि वो बीएसएफ और भारतीय सेना को निशाना बनाए। पाकिस्तानी सेना को सर्जिकल स्ट्राइक का बदला लेने के लिए सीमा पर रहने वाले आम लोगों से दूर रहने को कहा गया है। इसके बावजूद पिछले पांच सप्ताह में पाकिस्तान भारत की पश्चिमी सीमा पर करीब 500 बार सीजफायर का उल्लंघन कर चुका है। अकेले जम्मू में इस साल पाकिस्तान ने 200 बार सीजफायर का उल्लंघन किया है। 2015 में पाकिस्तान ने 405 बार सीजफायर को तोड़ा था।

दिवाली से पहले फायरिंग की तो बीएसएफ ने दिया मुंहतोड़ जवाब

अधिकारियों ने बताया कि बीएसएफ भी भारत में घुसपैठ की कोशिश करने वाली पाकिस्तानी सेना और आतंकवादियों मुंहतोड़ जवाब दे रही है। हालांकि बीएसएफ जवाबी फायर करने से बच रही है। एलओसी और अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास स्थित 100 स्कूलों को बंद करवा दिया गया है। बीएसएफ की ओर से जवाबी कार्रवाई के बाद पाकिस्तानी रेंजर्स भी सतर्क हो गए हैं। अधिकारियों के अनुसार दिवाली से दो दिन पहले ही पाकिस्तानी सेना और रेंजर्स ने भारतीय सीमा पर सेना की कुछ पोस्ट पर फायरिंग की थी। जम्मू के अखनूर क्षेत्र में मोर्टार भी दागे गए। इसके बाद बीएसएफ ने कुछ इस तरह से जवाबी कार्रवाई करनी शुरू की कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने सफेद झंडे दिखाकर इस फायर को बंद करने की गुजारिश की। इस जवाबी फायरिंग में कई पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे।

भारत की जवाबी कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने घुटने टेके

अखनूर क्षेत्र में बीएसएफ ने पाकिस्तानी रेंजर्स पर सभी कुछ फेंकने का मन बना लिया था। उसके बाद भारत के रवैये से परेशान होकर रेंजर्स ने सफेद झंडे दिखा दिए थे। उन्होंने बीएसएफ से फायरिंग रोककर बात करने को कहा। भारतीय सैनिकों ने कहा कि बातचीत सिर्फ कमांडरों के स्तर पर ही की जा सकती है। अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सेना हमेशा ऐसा ही करती है। जब भी पाकिस्तान को लगता है कि भारत उस पर भारी पड़ रहा है तब वो अपने आप हथियार डाल देती है। उसके बाद ही वो शांति की बात करते हैं। गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि हमारी सेना ने पाकिस्तान में आम लोगों को टारगेट करते हुए कभी भी सीजफायर नहीं तोड़ा है। भारतीय सेना सिर्फ जवाब देने के लिए ही फायर करती है।

Web Title "Pakistan fires 300 times after surgical strike "