प्रधानमंत्री की भी नहीं सुन रहे हैं मध्यप्रदेश के अफसर और अधिकारी

Shribabu Gupta

Publish: May, 23 2017 01:06:00 (IST)

Employee Corner

मोदी सरकार ने इस साल जनवरी अंत तक भारतीय प्रशासनिक सेवा के सभी अधिकारियों को चेतावनी दी थी लेकिन इन अधिकारियों ने नजर अंदाज कर दिया...

नई दिल्ली/भोपाल। मध्यप्रदेश के कई आईएएस अफसर अपनी संपत्ति का ब्योरा नहीं देना चाहते हैं। संपत्ति का ब्योरा देने के मामले में यह प्रदेश देश में तीसरे स्थान पर है। MP के करीब 118 अफसरों ने अपनी संपत्ति का खुलासा करने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई है।

मोदी सरकार ने इस साल जनवरी अंत तक भारतीय प्रशासनिक सेवा के सभी अधिकारियों से अपनी अचल संपत्ति रिटर्न का ब्योरा पेश करने को कहा था। यही नहीं ऐसा करने में असफल रहने पर सरकार ने प्रमोशन व मनोनयन पर भी रोक लगाने की चेतावनी दी थी।

1,856 अफसरों में से 118 मध्यप्रदेश के
देश भर के 1,856 आईएएस अफसरों ने अब तक सरकार को संपत्ति का ब्योरा नहीं दिया है। इनमें मध्यप्रदेश के 118 अफसर शामिल हैं। कार्मिक एवं प्रशिक्षण मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक इनमें सबसे ज्यादा 255 अधिकारी उत्तर प्रदेश कैडर के हैं। दूसरे नंबर पर 153 अधिकारी राजस्थान कैडर के हैं। वहीं, मध्य प्रदेश तीसरे स्थान पर है, जहां के 118 अफसरों ने संपत्ति की जानकारी नहीं दी। नियमों के मुताबिक सिविल सेवा अधिकारियों को भी सरकार के समक्ष अपनी संपत्ति और कर्ज का ब्योरा पेश करना होता है।

बंगाल और अरुणाचल के अफसर भी पीछे
पश्चिम बंगाल के 109 और अरुणाचल-गोवा-मिजोरम-केंद्र शासित प्रदेश कैडर के भी 104 अफसरों ने कोई जानकारी नहीं दी है।

इन राज्यों में भी नहीं दिया ब्योरा
आंकड़ों के मुताबिक इन राज्यों के अफसरों ने 2016 का अपना अचल संपत्ति रिटर्न का ब्योरा नहीं दिया है।

ये भी शामिल
गुजरात 56 , झारखंड 55, जम्मू-कश्मीर 51, तमिलनाडु 50, नगालैंड 43, उत्तराखंड 33, केरल 38, सिक्किम के 29 और तेलंगाना के 26 अधिकरी इसमें शामिल हैं।

मोहंती के ससुर ने उपहार में दिया बंगला
स्कूल शिक्षा में अतिरिक्त मुख्य सचिव IAS अफसर sr मोहंती के ससुर ने भुवनेश्वर में 5400 वर्गफीट का भवन बतौर उपहार दिया है। यह बंगला मोहंती की पत्नी को दिया गया था। इसकी कीमत 40 लाख रुपए बताई जाती है। जबकि मोहंती पौने दो करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक बताए जाते हैं। हाल ही में खुद मोहंती ने DOPT को यह जानकारी दी है, जो सामान्य प्रशासन विभाग की वेबसाइट पर अपलोड की गई है।

यह भी है संपत्ति
1. फंदा भौंरी में स्वयं और पत्नी के नाम पर 16-16 लाख कीमत की जमीन।
2. भुवनेश्वर में पत्नी के नाम 0.44 डेसी, इंदौर में 20 लाख कीमत का प्लाट, भोपाल के खुदागंज में 37 लाख कीमत की जमीन।
3. ओडिशा में पिता पीसी मोहंती ने 8.220 एकड़ का प्लॉट गिफ्ट किया। जो उनकी पत्नी के नाम पर है।
4. होशंगाबाद रोड स्थित अहमदपुर में 1800 वर्गफीट का प्लॉट।

मुख्य सचिव अंटोनी डिसा के पास है गोवा में संपत्ति
1. डिसा के पास गोवा में छह संपत्तियां हैं जो उनकी पैतृक है। इनमें से एक संपत्ति उन्होंने ग्रामीणों को रहने के लिए दे दी है।
2. गोवा के पणजी में एक संपत्ति और भोपाल की दो संपत्तियों में है पत्नी की हिस्सेदारी।
3. मुंबई के बांद्रा में है एक फ्लैट, जिसे डिसा की माताजी ने अपनी बहू को गिफ्ट किया था।
4. भोपाल के DK Rose अपार्टमेंट में भी है मकान।

वन के अतिरिक्त मुख्य सचिव हैं दीपक खांडेकर
1. भोपाल के लांबाखेड़ा क्षेत्र में 10 लाख रुपए कीमत का फ्लैट है इनके पास।
2. पत्नी अनुराधा खांडेकर के साथ संयुक्त प्रॉपर्टी है दिल्ली में। यहां 80 लाख रुपए कीमत का प्लॉट और 45 लाख कीमत का मकान भी है।
3. देश की राजधानी और एमपी की राजधानी के मकानों से होती है साढ़े तीन लाख की सालना आय।

वाणिज्यिक कर विभाग के पीएस हैं मनोज कुमार श्रीवास्तव
1. भोपाल के बागमुगालिया में प्लॉट लोन लेकर लिया था करीब चार लाख का प्लाट।
2. पत्नी मुक्ति के नाम चूनाभट्टी में 25 लाख का मकान, जो मां की मृत्यु के बाद हस्तांतरित हुआ।
3. बेटे कुणाल के नाम से बावड़िया कला और बेटी वदन्या के नाम पर 1.76 एकड़ कृषि भूमि है, जो उनकी माता की मृत्यु के बाद ट्रांसफर हुई थी।

गृह विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव हैं बीपी सिंह
1. पैतृक जमीन में है उनकी हिस्सेदारी।
2. उत्तरप्रदेश के ग्रेटर नोएडा में है। 2002 में खरीदी और 2009 में घर बनाया था।

Web Title "Property details of officers in MP "

Rajasthan Patrika Live TV