दिल्ली महिला कांग्रेस की अध्यक्ष का इस्तीफा

Shankar Sharma

Publish: Apr, 21 2017 01:15:00 (IST)

New Delhi, Delhi, India

बुरे दौर से गुजर रही कांग्रेस आलाकमान के सामने अब सबसे बड़ा संकट पार्टी को बचाने का है, क्योंकि पार्टी में लगातार टूट जारी है। इस बीच बड़े नेताओं के जाने की अफवाह ने पार्टी की चिंता बढ़ा दी है


अजीत मैंदोला
नई दिल्ली. बुरे दौर से गुजर रही कांग्रेस आलाकमान के सामने अब सबसे बड़ा संकट पार्टी को बचाने का है, क्योंकि पार्टी में लगातार टूट जारी है। इस बीच बड़े नेताओं के जाने की अफवाह ने पार्टी की चिंता बढ़ा दी है। हालांकि बड़े नेताओं का जाने का कोई मामला अभी तक सामने नहीं आया है, लेकिन दिल्ली में पार्टी को झटके जारी हैं।

अमरेंद्र सिंह लवली और अमित मलिक के बाद दिल्ली महिला कांग्रेस की अध्यक्ष बरखा सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे जिस तरह राहुल गांधी पर गंभीर आरोप लगाए उससे साफ है कि वह भी देर सबेर भाजपा में शामिल होंगी।

जबकि अमित मलिक को खुद राहुल गांधी ने चुना था। ऐसे संकेत हैं कि दिल्ली कांग्रेस के कई और नेता एक-दो दिन में भाजपा में
शामिल होंगे।

यूपी-उत्तराखंड के बाद स्थिति में आया बदलाव
उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की हार के बाद पार्टी की हालत यह है कि नेता व कार्यकर्ता पूरी तरह से भ्रमित हैं। राहुल गांधी अलग-अलग राज्यों के नेताओं के समूह के साथ रोजाना चर्चा जरूर कर रहे हैं, लेकिन पार्टी को क्या करना है कुछ तय नहीं कर पा रहे हैं। लोकसभा चुनाव में हुई करारी हार के बाद इसी तरह की बैठकें उन्होंने लगातार दो साल तक की, लेकिन कोई नतीजा निकल कर सामने नहीं आया। अब फिर उसी तरह की वह बैठकें चल रही हैं।

इससे कार्यकर्ताओं और नेताओं मे निराशा बढऩे लगी है। नजीता यह है कि कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इसके चलते उत्तराखंड से शुरू हुई टूट का सिलसिला दिल्ली तक जारी है। भाजपा इसमें अहम रोल निभा रही है। सूत्रों की मानें तो आने वाले दिनों में भाजपा बड़े नेताओं में सेंध लगाएगी। इसी के चलते बड़े नेताओं को लेकर अफवाहें उडऩे लगी हंै। हालत यह हो गई है कि पार्टी मुख्यालय में तैनात पदाधिकारियों को भी शक की दृष्टि से देखा जाने लगा है। कमलनाथ ने अफवाह का खंडन कर उनके पार्टी छोडऩे की खबर का बकवास करार दिया। 

Web Title "Delhi woman Congress president resigns "

Rajasthan Patrika Live TV