वित्त मंत्री जेटली ने अमरीका में उठाया H-1B वीजा का मुद्दा

Business

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अमरीका के अपने वर्तमान दौरे में अमरीकी प्रशासन से एच-1बी वीजा मुद्दे को अमरीकी अधिकारियों के सामने पुरजोर तरीके से उठाया।  

वाशिंगटन. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अमरीका के अपने वर्तमान दौरे में अमरीकी प्रशासन से एच-1बी वीजा मुद्दे पर अमरीकी अधिकारियों सामने पुरजोर तरीके से उठाया। जेटली ने अमरीकी वाणिज्य मंत्री विलबर रोस से गुरुवार को हुई मुलाकात में इस मुद्दे पर चर्चा की। इस दौरान उन्होंने हाल के कार्यकारी आदेशों का जिक्र किया, जिनसे एच-1बी वीजा पर सख्ती के संकेत मिल रहे हैं। इसके साथ ही जेटली ने अमरीकी अर्थव्यवस्था में कुशल भारतीय पेशेवरों के योगदान को रेखांकित किया और उम्मीद जताई कि अमरीकी प्रशासन कोई भी फैसला लेते हुए इस पहलू पर भी गौर करेगा। इस पर रॉस ने कहा कि अमरीका ने एच-1बी वीजा मुद्दे को रिव्यू करने की प्रॉसेस शुरू की है, लेकिन इस पर अभी कोई फैसला नहीं लिया गया है। जेटली अमेरिका की पांच दिवसीय यात्रा पर हैं, जहां वह अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष और विश्व बैंक की बैठकों में भाग लेंगे।
डब्ल्यूटीओ के नियमों को पालन करें अमरीका
भारतीय वाणिज्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने गुरुवार को नई दिल्ली में मीडिया से कहा कि अमरीका ने विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) में भारत को एक निश्चित संख्या में एच-1बी वीजा देने का वादा किया था और हम 'चाहते हैं कि अमरीका यह वादा निभाए। सीतारमण ने कहा कि केवल अमरीका ही नहीं, कई देश ऐसे (प्रतिबंधात्मक) कदम उठा रहे हैं। 

भारत ने मौजूदा व्यवस्था को बताया दोनों के लिए लाभदायक
मंत्री ने कहा कि प्रतिबंधात्मक वीजा व्यवस्था से भारत में संचालित अमरीकी कंपनियों पर भी असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि यह एकतरफा मुद्दा नहीं है, जिससे भारतीय कंपनियां प्रभावित होंगी, बल्कि भारत में भी कई अमरीकी कंपनियां हैं, जो सालों से यहां व्यापार कर रही हैं। 

भारतीयों के खिलाफ बन रहें हैं कानून
अमरीका जहां अपने वीजा कार्यक्रम की समीक्षा कर रहा है, वहीं ऑस्ट्रेलिया ने हाल ही में अपने एक अस्थायी वीजा कार्यक्रम, 457 वीजा को रद्द कर दिया है। सीतारमण ने इन देशों के उदाहरण देते हुए कहा कि देश अब सेवा व्यापार के मद्देनजर स्पष्ट रूप से सुरक्षात्मक कदम उठा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मैं कुशल पेशेवरों की शरणार्थियों से तुलना करने का विरोध करती हूं।

Web Title "FM Arun jetly raises H-1B visa issue before Us Administration "

Rajasthan Patrika Live TV