नहीं जांची बच्चों की वर्क बुक, अब शिक्षकों पर गिरेगी गाज

By: Subodh Kumar Tripathi

Updated On:
25 Aug 2019, 01:23:06 PM IST

  • नहीं जांची बच्चों की वर्क बुक, अब शिक्षकों पर गिरेगी गाज

नीमच. जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित शासकीय प्राथमिक और माध्यमिक विद्यालयों का निरीक्षण करने के लिए शनिवार को जिला अधिकारियों का दल आधा दर्जन से अधिक विद्यालयों में पहुंचा। इस दौरान बच्चों से लेकर शिक्षकों तक से पूछताछ कर मौके पर शिक्षा की गुणवत्ता की जांच कर, ऐसे में कहीं संतोषजनक स्थिति नजर आई तो कहीं पर शिक्षकों की लापरवाही के कारण शैक्षणिक गुणवत्ता प्रभावित नजर आए।
जिला शिक्षा केंद्र से शनिवार को डीपीसी डॉ पीएस गोयल, एपीसी केएम सौलंकी, एपीसी अरूण गेहलोद शासकीय विद्यालय का बारी बारी से निरीक्षण करने पहुंचेे। जिन्होंने प्राथमिक विद्यालय तारापुर, माध्यमिक विद्यालय तारापुर, प्राथमिक विद्यालय उम्मेदपुरा, प्राथमिक विद्यालय खेड़ा बुद्धपुरा, प्राथमिक विद्यालय आटा, माध्यमिक विद्यालय आटा, प्राथमिक विद्यालय चड़ोल, माध्यमिक विद्यालय चड़ोल का औचक निरीक्षण किया गया।


प्राविमावि चड़ोल में नजर आई शिक्षकों की लापरवाही
निरीक्षण दल ने जानकारी देते हुए बताया कि दौरान प्रावि मावि चड़ोल में स्थिति संतोषजनक नजर नहीं आई। यहां बच्चों की उपस्थिति भी ५० प्रतिशत से अधिक नहीं थी। वहीं शिक्षकों द्वारा बच्चों की कॉपियां भी समय समय पर नहीं जांची जा रही थी। जिसमें सभी चार शिक्षकों की लापरवाही नजर आई। इस संबंध में प्रत्येक शिक्षका का १०-१० दिन का वेतन काटने या अगस्त माह का वेतन तब तक रोका जाएगा, जब तक बच्चों की दक्षता में सुधार नहीं हो जाता है।

जिले में सघन मॉनिटरिंग की जा रही है। जिसके तहत शनिवार को कई विद्यालयों का निरीक्षण किया गया, जहां लापरवाही पाई गई है वहां संबंधितों पर वैद्यानिक कार्यवाही की जाएगी।
-केएम सौलंकी, सहायक परियोजना समन्वयक

Updated On:
25 Aug 2019, 01:23:06 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।