एक तरफ ई अनुज्ञा का विरोध, दूसरी ओर 792 बन गई ई अनुज्ञा

By: Subodh Kumar Tripathi

Updated On:
24 Aug 2019, 01:13:14 PM IST

  • एक तरफ ई अनुज्ञा का विरोध, दूसरी ओर 792 बन गई ई अनुज्ञा

नीमच. जहां प्रदेश भर में व्यापारियों द्वारा ई अनुज्ञा का विरोध किया जा रहा है। वहीं नीमच मंडी में ई अनुज्ञा बनाने में किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आ रही है। नीमच मंडी में हर दिन सैंकड़ों की संख्या में ई अनुज्ञा तैयार हो रही है। नीमच मंडी में जिस दिन से ई अनुज्ञा अनिवार्य हुई है, उस दिन से आज तक करीब 792 से अधिक ई अनुज्ञा तैयार हो चुकी है।


दूसरे दिन भी बंद रही मंडी, अब तीन दिन का अवकाश
व्यापारी संघ द्वारा ई अनुज्ञा के विरोध में लगातार दूसरे दिन भी नीलामी में भाग नहीं लिया गया, जिसके चलते कृषि उपज मंडी में एक भी दाना उपज का नहीं आया। इस कारण प्रदेश की टॉप मंडियों में आंकी जाने वाली कृषि उपज मंडी में सन्नाटा पसरा रहा, हालांकि विभागीय काम होते रहे, वहीं व्यापारियों द्वारा भी उपज बाहर भेजने का लोडिंग अनलोडिंग का कार्य किया गया। चूकि कृषि उपज मंडी में शुक्रवार को कृष्ण जन्माष्टमी, शनिवार को माह का चौथा शनिवार और रविवार को शासकीय अवकाश है। इस कारण अब निश्चित ही तीन दिन मंडी पूर्ण रूप से बंद रहेगी। इसके बाद जो भी निर्णय होगा व सोमवार को ही होगा।


अभी तक बनी 792 ई अनुज्ञा
जिस दिन से प्रदेशभर में ई अनुज्ञा का विरोध किया गया, उसी दिन से आज तक हर दिन नीमच कृषि उपज मंडी में ई अनुज्ञा बिना किसी दिक्कत के बन रही है। करीब एक सप्ताह में 792 ई अनुज्ञा बन चुकी है। जिससे साफ पता चल रहा है कि व्यापारियों द्वारा भले ही किसानों से उपज की खरीदी नहीं की जा रही है। उनके द्वारा बाहर माल भेजा जा रहा है।
16 अगस्त से अभी तक बनी ईअनुज्ञा पर एक नजर
दिनांक ई अनुज्ञा की संख्या
16 अगस्त 70
17 अगस्त 157
18 अगस्त 77
19 अगस्त 134
20 अगस्त 128
21 अगस्त 154
22 अगस्त 72
कुल 792

मांगे पूरी होते ही शुरू की जाएगी नीलामी
लहसुन प्याज को रख नहीं सकते वह जल्दी खराब हो जाता है। इसलिए जो माल स्टॉक में है उसे लोडिंग अनलोडिंग किया जा रहा है। हमारी मुख्य मांगे मान ली जाए, तो शीघ्र ही मंडी नीलामी शुरू कर दी जाएगी।
-राजेंद्र खंडेलवाल, सचिव, व्यापारी संघ

शीघ्र होगा समस्या का निराकरण
ई अनुज्ञा बन रही है। ई अनुज्ञा में किसी प्रकार की दिक्कतें नहीं आ रही है। व्यापारियों की मांग है कि पोर्टल पर एक एक एंट्री नहीं डालनी पड़े, एक्जाई एंट्री हो जाए, जल्द ही समस्या का निराकरण हो जाएगा।
-सतीष पटेल, मंडी सचिव

Updated On:
24 Aug 2019, 01:13:14 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।