62 किलो डोडा पोस्त के साथ दो आरोपी गिरफ्तार

By: Sandeep Pandey

Updated On: 25 Aug 2019, 12:14:33 PM IST

  • मेड़ता सिटी. एक बड़ी कार्रवाई कराते हुए 62 किलो अवैध डोडा पोस्त तथा 220 ग्राम अफीम सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार किया।

मेड़ता सिटी. मेड़ता सिटी थाना पुलिस ने जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर अवैध मादक पदार्थ की रोकथाम को लेकर चलाए जा रहे अभियान के तहत एक बड़ी कार्रवाई कराते हुए 62 किलो अवैध डोडा पोस्त तथा 220 ग्राम अफीम सहित दो आरोपियों को गिरफ्तार किया।

जिला पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर अवैध मादक पदार्थ अफीम, डोडा पोस्त व शराब बिक्री के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के दौरान वृत्ताधिकारी रामगोपाल शर्मा के नेतृत्व में मेड़ता सीआई अमराराम खोखर, कांस्टेबल रामलाल, कंवरीलाल, भगवतराम की टीम ने मुखबिर की सूचना पर 23 अगस्त को देर शाम जसनगर कस्बा बस स्टैंड के पास स्थित एक घाणे पर दबिश दी। इस दौरान मालियों की ढाणी जसनगर निवासी आरोपी उगमाराम पुत्र बगदाराम माली व जसनगर निवासी सुरेशचंद पुत्र कालूराम सोलंकी के कब्जे से 62 किलो अवैध डोडा पोस्त तथा 220 ग्राम अफीम जब्त कर आरोपियों को गिरफ्तार किया। अवैध मादक पदार्थ रखने के आरोपियों को रविवार सुबह न्यायाधीश के समक्ष पेश किया गया, जहां से आरोपियों को पूछताछ के लिए पुलिस रिमांड पर भेजने के आदेश दिए गए।


गाय को बचाने के लिए ट्रेन की चपेट में आया वृद्ध
डीडवाना. क्षेत्र में शनिवार को गाय को बचाने के दौरान एक वृद्ध ट्रेन की चपेट में आने से गंभीर रूप से घायल हो गया। जानकारी के अनुसार शहर के निकट लाडनंू रोड पुलिया के नीचे पाटण ग्राम के पास श्रवण गुर्जर (57) का खेत है। शनिवार को श्रवण अपने खेत के पास था, तब उसने देखा की रेलवे लाईन के बीच एक गाय बैठी है और दूसरी तरफ से सवारी गाड़ी भी पटरियों पर दौड़ते हुए आ रही है। श्रवण बिना कुछ भी सोचे समझे गाय को बचाने के लिए दौड़ पड़ा। श्रवण ने गाय को तो बचा लिया, लेकिन ट्रेन की चपेट में आने से गंभीर घायल हो गया। घायल को उपचार के लिए बांगड़ अस्पताल लाया गया, जहां उसकी गंभीर अवस्था को देखते हुए चिकित्सको ने उसे उपचार के लिए हायर सेंटर रैफर कर दिया। गौरतलब है कि आसपास सहित अन्य क्षेत्रों मे रेल की चपेट मे आने से गोवंश सहित पशुओं की प्राय: मौत हो जाती है।

घटना के बाद लोगों मे आक्रोश देखा गया। जनअधिकारी सेना प्रदेशाध्यक्ष एडवोकेट सुनीलकुमार शर्मा ने आक्रोश व्यक्त किया है। शर्मा ने बताया कि शनिवार को हुई दुर्घटना मे राज्य सरकार पूरी तरह से जिम्मेदार है। गोवंश संरक्षण व सुरक्षा पर यदि राज्य सरकार काम नहीं करेगी तो न्यायालय की शरण लेंगे।

 

Updated On:
25 Aug 2019, 12:14:32 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।