SIP में निवेश करने से पहले इन बातों का रखें खास ध्यान

By: Dimple Alawadhi

Updated On: Feb, 09 2019 02:27 PM IST

  • अब तक आपने बहुत सुना होगा कि म्यूचुअल फंड में पैसा लगाने से आपको लाखों का फायदा होगा। लेकिन ये पूरी सच्चाई नहीं है। पिछले दो साल में जिन लोगों ने इक्विटी म्यूचुअल फंड में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के जरिए पैसा लगाया था, उनमें से कई लोगों को अब नुकसान हुआ है।

नई दिल्ली। अब तक आपने बहुत सुना होगा कि म्यूचुअल फंड में पैसा लगाने से आपको लाखों का फायदा होगा। लेकिन ये पूरी सच्चाई नहीं है। पिछले दो साल में जिन लोगों ने इक्विटी म्यूचुअल फंड में सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के जरिए पैसा लगाया था, उनमें से कई लोगों को अब नुकसान हुआ है। एक रिपोर्ट के जरिए खुलासा हुआ है कि 137 इक्विटी म्यूचुअल फंडों में से 78 के एसआईपी निवेशकों को औसतन 1.5 फीसदी का नुकसान हुआ है।


लोगों को इतना हुआ घाटा

ज्यादातर मिड और स्मॉल कैप फंड में 6 फीसदी का घाटा हुआ है। इसके साथ ही अगर लार्ज कैप फंड्स की बात करें तो इसमें 1.5 फीसदी की मजबूती आई है। दिसंबर 2018 में एसआईपी निवेश 8,022 करोड़ के साथ शिखर पर पहुंच गया था। वहीं मार्च 2015 में एसआईपी से 1,916 करोड़ रुपए का निवेश इक्विटी म्यूचुअल फंड्स में हुआ था। एम्फी के अनुसार म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री ने 2018-19 के हर महीने में औसतन 9.46 लाख एसआईपी अकाउंट जोड़े हैं।


ऐसे चुनें सही स्कीम

पिछले कुछ सालों में एसआईपी में निवेश के प्रति लोगों का रुझान बढ़ा है। निवेशकों ने जनवरी से दिसंबर 2018 के बीच एसआईपी के जरिए इक्विटी म्यूचुअल फंड्स में 88,667 करोड़ रुपए लगाए थे। इतना ही नहीं एसआईपी का एवरेज साइज 3,150 रुपए मंथली रहा है। आज बाजार में अनेक म्‍यूचुअल फंड की स्‍कीमें चल रही हैं और सब स्कीमों के तहत निवेशकों को अच्छा रिटर्न मिलने का दावा किया जाता है। अगर आप परफॉर्मेंस, रिस्‍क, मैनेजमेंट और कॉस्‍ट को ध्यान मे रखते हुए निवेश करेंगे तो आपको कभी घाटा नहीं होगा।

Read the Latest Business News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले Business News in Hindi की ताज़ा खबरें हिंदी में पत्रिका पर।

Published On:
Feb, 09 2019 02:11 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।