म्यांमार में तख्तापलट के खिलाफ प्रदर्शन तेज, Facebook ने भी उठाया सेना के खिलाफ बड़ा कदम

By: Mahendra Yadav

|

Published: 21 Feb 2021, 08:07 PM IST

ऐप

म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के खिलाफ प्रदर्शन तेज हो गया है। सेना प्रदर्शनकारियों पर बल प्रयोग कर रही है। इसके बावजूद प्रदर्शन थम नहीं रहे। एक प्रसिद्ध अभिनेता ने भी तख्तापलट के विरोध का समर्थन किया, इसलिए सेना ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग भी की गई। इसमें दो लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए। वहीं फेसबुक ने रविवार को सेना का मुख्य पेज डिलिट कर दिया। कंपनी ने यह कार्रवाई हिंसा भड़काने पर रोक लागने को लेकर मानक तहत की है। यूनाइटेड नेशंस ने भी म्यांमार के सैन्य शासकों को प्रदर्शनकारियों पर खतरनाक हथियार का इस्तेमाल नहीं करने की सख्त हिदायद दी है।

फेसबुक ने डिलीट किया पेज
फेसबुक ने म्यांमार की सेना द्वारा चलाए जा रहे मुख्य समाचार पृष्ठ को हटा दिया, जिसमें हिंसा को भड़काने पर रोक लगाने के नियमों का उल्लंघन किया गया था। रिपोर्ट के अनुसार, तख्तापलट के विरोध में दो लोगों के मारे जाने के एक दिन बाद फेसबुक ने यह कदम उठाया है। फेसबुक ने एक बयान में कहा कि हमारी वैश्विक नीतियों के अनुरूप, हमने अपने सामुदायिक मानकों के बार-बार उल्लंघन के लिए फेसबुक से टाटमाडॉ ट्र न्यूज इन्फॉर्मेशन टीम के पेज को हटा दिया है।

चेतावनी जारी की पेज से
सेना ने प्रदर्शनकारियों को चेतावनी जारी करने के लिए पेज का इस्तेमाल किया और अपने आरोपों का प्रसार किया कि नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी (एनएलडी) ने पिछले साल चुनाव में जीत दर्ज की थी। सेना ने अपने आरोपों को वापस करने का कोई सबूत नहीं दिया है।

कंटेंट पर भी लगाया था प्रतिबंध
बता दें कि इस महीने की शुरुआत में, म्यांमार की सेना ने लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित नेता आंग सान सू ची और अन्य को हिरासत में लेने के बाद देश में एक साल के लिए आपातकाल लगा दिया। फेसबुक ने इस महीने की शुरुआत में म्यांमार की सेना द्वारा चलाए जा रहे कंटेंट और प्रोफाइल पर व्यापक प्रतिबंध लगाए थे ताकि गलत सूचना को रोका जा सके।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।