पति से तलाक न मिलने पर दुबई से भागी महिला, मैसिडोनिया से मांगी शरण

By: Mohit Saxena

Published On:
Feb, 12 2019 03:41 PM IST

  • मंत्रालय ने कहा कि उसने अलबलूकी को स्वेच्छा से देश छोड़ने के लिए 15 दिनों की अवधि दी है

स्कोप्जे। दुबई से भागकर मैसिडोनिया पहुंची एक महिला ने शरण देने का भावुक अनुरोध किया है। गौरतलब है कि बाल्कन देश ने उसे शरण देने से मना कर दिया। इसके बाद से वह लगातार अपील कर रही है कि उसे शरण दी जानी चाहिए। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आॅनलाइन पोस्ट और एक वीडियो में हिंद मोहम्मद अलबलूकी(42)ने कहा है कि पति से तलाक मांगने पर परिवार ने उसे मार देने की धमकी दी थी। इसके बाद वह दुबई से मैसिडोनिया आ पहुंची।

15 दिनों की अवधि दी है

मैसिडोनिया में शरण के लिए उसकी अपील को चार फरवरी को देश के आंतरिक मामलों के मंत्रालय ने खारिज कर दिया था। उसका कहना था कि नस्ल, धर्म, राष्ट्रीयता या राजनीतिक संबद्धता के आधार पर उसका उत्पीड़न होने का कोई सबूत नहीं है। मंत्रालय ने कहा कि उसने अलबलूकी को स्वेच्छा से देश छोड़ने के लिए 15 दिनों की अवधि दी है।

Read the Latest World News on Patrika.com. पढ़ें सबसे पहले World News in Hindi पत्रिका डॉट कॉम पर.

ट्विटर अकाउंट की जांच हो रही

इस दौरान अलबलूकी को आव्रजन हिरासत में रखा जा रहा है। जहां वह सात दिसंबर से है। मैसिडोनिया में रहने वाले अलबलूकी के मित्र नेनाद दमित्रोव को हिरासत में लिए जाने के बाद से उनके ट्विटर अकाउंट को देखा जा रहा है। उन्होंने बताया कि वह उनसे एक क्रूज शिप पर मिले थे और तबसे उनके संपर्क में हैं। उन्होंने बताया कि अलबलूकी दो अक्टूबर को परिवार द्वारा शौचालय जाने की अनुमति दिए जाने के बाद भाग निकली थी।

Published On:
Feb, 12 2019 03:41 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।