आस्ट्रेलिया की सड़कों पर अगले साल से दौड़ेगी बिना ड्राइवर की कार

By: Mangala Prasad Yadav

Published On:
Sep, 12 2018 05:04 PM IST

  • पर्थ में बिना ड्राइवर की कार का परीक्षण किया जा रहा है। अगर यह सफल रहा तो कार में 6 लोग सवार होकर अपने गंतव्य स्थान तक जा सकते हैं।

कैनबरा। ऑस्ट्रेलिया का पर्थ दुनिया का ऐसा पहला शहर बनने जा रहा है, जहां बिना ड्राइवर की कार होगी। बुधवार को एक प्रतिकृति(प्रोटोटाइप) वाहन के अनावरण के साथ 'चालक रहित ऑन-डिमांड कारों' का परीक्षण हो गया। स्वायत्त वाहन कंपनी एनएवीवाईए द्वारा निर्मित कार 'शैपरोन(संरक्षिका)' से लैस होगी, जिसकी सहायता से जरूरत पड़ने पर कार को किसी भी समय मैन्युअली रोका जा सकता है।

ऐसे बुक कर सकते हैं यह कार
इन वाहनों में छह लोगों को ले जाने की क्षमता होगी और इसकी अधिकतम गति 90 किलोमीटर प्रति घंटा होगी, हालांकि परीक्षण के दौरान गति को 50 किलोमीटर तक सीमित कर दिया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 2019 तक चालक रहित कारों का परीक्षण पूरा होने के बाद, पंजीकृत प्रयोगकर्ता फोन एप के जरिए अपने गंतव्य स्थान तक जाने के लिए इन कारों को मंगा सकते हैं। यह प्रक्रिया सामान्य टैक्सी की तरह ही होगी। रॉयल ऑटोमोटिव क्लब ऑस्ट्रेलिया में इन परीक्षणों की सुविधा प्रदान करा रहा है और मुख्य कार्यकारी टेरी एजन्यू ने कहा कि पर्थ दुनिया के उन तीन शहरों में शामिल है, जहां ये परीक्षण हो रहे हैं।

ये भी पढ़ें- पत्रिका स्पेशल: इस गोल्ड मेडलिस्ट को है मदद की दरकार, सरकार से नहीं मिली मदद तो लोगों से लगाई गुहार, देखें वीडियोस

स्थानीय प्रशासन से सहयोग की अपील
कंपनी के मुख्य कार्यकारी टेरी एजन्यू ने कहा कि इस तरह की कार से लोगों को समय की काफी बचत होगी। इसके साथ ही कम लोगों से अधिक से अधिक काम लिया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि इस कार से संबंधित परीक्षणों के लिए देश की राज्य सरकारों के साथ भी बातचीत हो रही है। उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सरकार और स्थानीय प्रशासन के लोग उनकी मदद करेंगे। बता दें कि इस कार के अनावरण के साथ ही स्थानीय लोगों में इसमें सवार होने की उत्सुकता बढ़ गई है।

Published On:
Sep, 12 2018 05:04 PM IST