मीडिया रिपोर्ट का दावा, CIA का एजेंट था उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन का सौतेला भाई

By: Mohit Saxena

Updated On: Jun, 11 2019 04:10 PM IST

    • वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट में हुआ खुलासा
    • CIA और किम जोंग नम के बीच सांठगांठ थी
    • किम जोंग नम कई दूसरे देशों की सुरक्षा एजेंसी के संपर्क में था

वॉशिंगटन। अमरीकी अखबार वॉल स्ट्रीट जर्नल ने अपनी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि 2 017 में मलेशिया में मारे गए उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नाम अमरीकी सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (CIA) के मुखबिर थे। एक व्यक्ति का हवाला देते हुए रिपोर्ट में कहा गया है कि CIA और किम जोंग नम के बीच सांठगांठ थी। हालांकि सीआईए ने इससे इंकार कर दिया है। उसका दावा है कि किम जोंग नाम के CIA के साथ संबंध के विवरण अस्पष्ट हैं।

अमरीका: गगनचुंबी इमारत पर लैंड करते वक्त हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, पायलट की मौत

 

north

कई पूर्व अमरीकी अधिकारियों ने किया इनकार

कई पूर्व अमरीकी अधिकारियों ने कहा कि किम जोंग का सौतेला भाई कई वर्षों से उत्तर कोरिया के बाहर रह रहा था। ऐसे में उसके पास कोई शक्ति नहीं थी औऱ न ही इस बात की कोई संभावना थी कि वह उत्तर कोरिया के आंतरिक कामकाज की जानकारी दे सके। रिपोर्ट के अनुसार पूर्व अधिकारियों का मानना है कि किम जोंग नाम कई दूसरे देशों की सुरक्षा एजेंसी के संपर्क में था। विशेष कर चीन की सुरक्षा एजेंसी से वह जुड़ा हुआ था।

ब्रिटेन: UK के अगले PM के लिए 10 उम्मीदवारों के नाम फाइनल, ये हैं रेस में आगे

 

2017 में किम जोंग नाम की हत्या कर दी गई थी

दक्षिण कोरियाई और अमरीकी अधिकारियों ने कहा है कि उत्तर कोरिया ने ही किम जोंग नाम की हत्या का आदेश दिया था, क्योंकि ये परिवार के वंशवादी शासन के लिए बेहद जरूरी था। वहीं, प्योंगयांग ने इन आरोप से इनकार कर दिया है। गौरतलब है कि फरवरी 2017 में कुआलालंपुर हवाई अड्डे पर एक प्रतिबंधित रासायनिक हथियार से किम जोंग नाम की हत्या कर दी गई थी। इस आरोप में दो महिलाओं को गिरफ्तार किया गया। जांच के बाद मलेशिया ने वियतनामी महिला दोन थी हुओंग को मई और इंडोनेशिया की सिति आसियाह को मार्च में रिहा किया था।

विश्व से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Published On:
Jun, 11 2019 12:25 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।