अमरीका: फ्लोरिडा में 6 साल की बच्ची गिरफ्तार, सोशल मीडिया पर भड़का लोगों का गुस्सा

By: Anil Kumar

Published: 27 Feb 2020, 07:22 PM IST

 
    • फ्लोरिडा ( Falorida ) के ओरलैंडो स्कूल ( Orlando School ) में 6 साल की बच्ची गिरफ्तार
    • बच्ची पर स्कूल स्टाफ के साथ बुरा बर्ताव करने का आरोप

ओरलैंडो। अमरीका ( America ) में एक 6 साल की बच्ची को गिरफ्तार ( Girl Arrested ) करने के मामले सोशल मीडिया ( Social Media ) पर लोगों में गुस्सा भड़ गया है। लोग पुलिस की इस कार्रवाई से काफी नाराज हैं। दरअसल, अमरीका में फ्लोरिडा ( Falorida ) के ओरलैंडो स्कूल () में 6 साल की बच्ची को गिरफ्तार कर लिया।

बच्ची पर आरोप है कि उन्होंने अपने स्कूल स्टाफ के साथ बुरा बर्ताव किया है। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में दिख रहा है कि बच्ची फूट-फूट कर रो रही है और पुलिस से गिरफ्तार न करने की गुहार लगा रही है। लेकिन ओरलैंडो पुलिस का एक कर्मचारी उसे हथकड़ी लगाकर अपनी गाड़ी में बिठाकर ले जाता है।

अमरीका से 'एयर डिफेंस सिस्टम' खरीदेगा भारत, पाकिस्तान में मची खलबली

वीडियो में यह भी दिख रहा है कि बच्ची पुलिस से अपील कर रही है कि उन्हें एक मौका दिया जाए। पर पुलिस नहीं सुनती है। बच्ची रोते हुए कहती है, 'मैं पुलिस की कार में नहीं जाना चाहती।'

मालूम हो कि बच्ची को गिरफ्तारी करने का ये मामला बीते साल 19 सितंबर का है। बच्ची पर ये आरोप है कि उन्होंने ओरलैंडो चार्टर स्कूल के स्टाफ मेंबर्स पर लात-घूंसे चलाए।

पुलिस कर्मी ने खुद शूट किया गिरफ्तारी का वीडियो

आपको बता दें कि ओरलैंडो स्कूल के सिक्योरिटी अफसर डेनिस टर्नर ने बच्ची को गिरफ्तार किया और इस पूरे घटनाक्रम को अपने बॉडी कैम से शूट भी किया। स्कूल प्रबंधन की शिकायत पर अफसर बच्ची को गिरफ्तार करने पहुंचे थे।

हालांकि इतने दिनों के बाद यह वीडियो बच्ची के परिवार वालों के हाथ लगा। जिसके बाद परिवार वालों ने इसे सार्वजनिक करने का फैसला किया। बच्ची के घरवालों को इसी साल फरवरी में ही यह वीडियो मिला है।

सोशल मीडिया पर भड़का लोगों का गुस्सा

6 साल की बच्ची की गिरफ्तारी को लेकर सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा भड़क गया है। लोगों ने पुलिस की कार्रवाई पर सख्त नाराजगी जाहिर की है। हालांकि अब विवाद बढ़ने के बाद ओरलैंडो पुलिस ने अपने अफसर डेनिस टर्नर को बर्खास्त कर दिया है।

अमरीका ने Coronavirus से लड़ने के लिए चीन और अन्य देशों को 715 करोड़ रुपये मदद की पेशकश की

अधिकारियों का कहना है कि उस सिक्योरिटी अफसर ने पॉलिसी का उल्लंघन किया है क्योंकि उसने गिरफ्तारी से पहले पुलिस प्रशासन से इजाजत नहीं ली थी।

Published: 27 Feb 2020, 07:22 PM IST

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।