नई मुश्किल में नवजोत सिंह सिद्धू, बंद बोतल से फिर बाहर आया रोड रेज का जिन्न

By: Pritesh Gupta

Published On:
Sep, 12 2018 06:29 PM IST

  • सुप्रीम कोर्ट तय करेगा कि सिद्धू को जेल की सजा दी जाए या नहीं। सुप्रीम कोर्ट ने सिद्धू को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

नई दिल्ली। दिग्गज कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर एक पुरानी मुसीबत फिर उठ खड़ी हुई है। 1988 में सिद्धू पर एक रोड रेज का मामला दर्ज हुआ था। इस मामले में सिद्धू को एक हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई थी लेकिन अब पीड़ित परिवार ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दायर की थी। अब सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले पर फिर से परीक्षण करने का फैसला किया है। सुप्रीम कोर्ट तय करेगा कि सिद्धू को जेल की सजा दी जाए या नहीं। सुप्रीम कोर्ट ने सिद्धू को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

हार्दिक पटेल ने 19वें दिन तोड़ा अनशन, कहा- 'जिंदा रहकर लड़ूंगा लड़ाई'

पहले एक हजार रुपए का लगा था जुर्माना

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस संजय किशन कौल की बेंच ने इस मामले में निर्देश जारी किया है। 15 मई को सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस जे चेलमेश्वर की बेंच ने सिद्धू को एक हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई थी। तब कोर्ट ने कहा था, 'गुरनाम सिंह की मौत के लिए सिद्धू को दोषी नहीं ठहरा सकते। सिद्धू की गुरनाम से कोई पुरानी दुश्मनी नहीं थी। घटना में कोई हथियार इस्तेमाल नहीं हुआ।'

यह भी पढ़ें कश्मीर निकाय चुनाव पर फिर उठे सवाल, कांग्रेस ने कहा अनुकूल नहीं हालात

...इन दिनों कई विवादों से घिरे हैं सिद्धू

पहले भाजपा में रहे सिद्धू इन दिनों भाजपा के ही निशाने पर हैं। पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में जाने और पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा से गले मिलने को लेकर सिद्धू को काफी विरोध हुआ था। उनके इस कदम की उन्हीं की पार्टी के दिग्गज और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भी आलोचना की थी।

जीजा की फिल्म 'लवरात्रि' को लेकर मुसीबत में सलमान खान, मुजफ्फरपुर में दर्ज हुआ केस

Published On:
Sep, 12 2018 06:29 PM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।