गोवाहटीः नागरिक संशोधन विधेयक के खिलाफ जनता भवन के बाहर जमकर प्रदर्शन, सड़कों पर जुटे 70 संगठन

By: Dhiraj Kumar Sharma

Updated On: Nov, 16 2018 10:53 AM IST

  • असम में नागरिक संशोधन विधेयक बिल के खिलाफ सड़कों पर उतरे 70 से ज्यादा संगठन, जनता भवन के सामने किया जोरदार प्रदर्शन।

नई दिल्ली। नागरिक संशोधन विधेयक-2016 के खिलाफ कृषक मुक्ति संग्राम समिति के मुखिया अखिल गोगोई की अगुवाई में कथित तौर पर 70 संगठन आज गुवाहाटी में जमकर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। एक दिन पहले इन संगठनों की ओर से प्रदर्शन की चेतावनी जारी की गई थी, इसके चलते प्रशासन ने धारा-144 (निषेधाज्ञा) लागू किया गया। बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी गोवाहटी स्थित जनता भवन पहुंचे और जमकर नारेबाजी की। हाथों में बैनर पोस्टर और तख्तियां लिए ये प्रदर्शनकारी नागरिक संशोधन विधेयक-2016 के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे।

 

25 हजार समर्थक सड़कों पर जुटे
आपको बता दें कि अखिल ने आह्वान पर 11 नवम्बर को राज्य के चार स्थानों से संकल्प यात्रा नामक बाइक रैली निकाली गई थी। केएमएसएस ने चेतावनी दी थी कि 70 संगठनों के 25हजार समर्थक 16 नवम्बर को विधेयक के मुद्दे पर राजधानी का घेराव करेंगे। साथ ही जनता भवन के सामने भी जोरदार विरोध प्रदर्शन किया जाएगा। इसको देखते हुए कामरूप (मेट्रो) जिला प्रशासन ने राजधानी इलाके में धारा-144 लागू कर किसी भी तरह की अराजक स्थिति से निपटने के लिए पुलिस को निर्देश दिया है।

असम छात्र संस्था भी कर रही आंदोलन

बताते चलें कि इस विधेयक को लेकर केएमएसएस के अलावा असम छात्र संस्था (आसू) भी अलग से अपना आंदोलन चला रहा है। अखिल का आंदोलन उग्रता का रूप धारण किए हुए है, जबकि आसू का आंदोलन गणतांत्रिक तरीके से चल रहा है। आसू ने भी 20 नवम्बर को भी जनता भवन के सामने आंदोलन की धमकी दी है। डीजीपी ने कहा कि कानून व्यवस्था किसी को अपने हाथ में लेने की इजाज नहीं दी जा सकती है। सभी जिला पुलिस अधीक्षक को पहले ही इससे निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। माना जा रहा है कि अखिल इस मुद्दे पर पुलिस के साथ झड़प कर सुर्खिया बटोरने की फिराक में हैं। इसको देखते हुए स्थिति बेहद उत्तेजक होने की संभावना है।

Published On:
Nov, 16 2018 10:52 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।