NGT ने बरकरार रखा अपना फैसला, दिल्ली-NCR में नहीं चलेंगी 10 साल पुरानी गाड़ियां

Rahul Chauhan

Publish: Sep, 14 2017 03:12:33 (IST)

Miscellenous India

केंद्र सरकार ने एनजीटी के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में दी थी चुनौती, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने फिर से इस मामले को एनजीटी को रेफर कर दिया था।

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर में 10 साल पुरानी गाड़ियों को लेकर नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। एनजीटी ने केंद्र सरकार को झटका देते हुए उस याचिका को खारिज कर दिया है, जिसमें केंद्र द्वारा एनजीटी को पुरानी डीजल और पेट्रोल की गाड़ियों पर लगाए बैन पर विचार करने के लिए कहा गया था। लेकिन एनजीटी ने अपने फैसले को बरकरार रखा है।

जस्टिस स्वतंत्र कुमार की बेंच ने सुनाया फैसला

एनजीटी के फैसले के बाद दिल्ली-एनसीआर में 10 साल पुरानी डीजल और 15 साल पुरानी पेट्रोल की गाड़ियों पर रोक लगा दी है। एनजीटी के आदेश के बाद दिल्ली-एनसीआर में इन गाड़ियों पर अब प्रतिबंध होगा। जस्टिस स्वतंत्र कुमार की अध्यक्षता वाली पीठ ने इस मामले पर अपना फैसला सुनाया है।

केंद्र सरकार ने SC में दी थी चुनौती
आपको बता दें कि एनजीटी ने ये आदेश तो काफी समय पहले ही दे दिया था, लेकिन इस आदेश को लेकर केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को दोबारा NGT को रेफर कर दिया था। NGT ने 2015 में अपने अंतरिम आदेश में इन वाहनों पर रोक लगाई थी।

केंद्र का रहा है ढीला रवैया
NGT के आदेश के बाद दिल्ली में पुरानी गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन होने पर भी रोक लग गई थी। एनजीटी इससे पहले भी कई बार इस बारे में केंद्र को लताड़ लगा चुकी है। हालांकि केंद्र की रवैया इस पर ढीला ही रहा था। इससे पहले भी NGT ने केंद्र से पूछा था कि पिछले एक साल में 10 साल पुरानी डीजल गाड़ियों को हटाने के लिए आपने क्या किया है। एनजीटी ने पूछा था कि आपने कुछ नहीं

 


Web Title "NGT will continue his decesion and diesel and petrol vehicle baned"

Rajasthan Patrika Live TV