भारतीय सीमा में एक महीने में तीन बार घुसे चीनी सैनिक, ITBP की रिपोर्ट में बड़ा खुलासा

By: Dhiraj Kumar Sharma

Updated On: 12 Sep 2018, 09:50:44 AM IST

  • अगस्त महीने में तीन बार भारतीय सीमा में घुसे चीनी सैनिक, 15 अगस्त को भी दिखाया दुस्साहस।

नई दिल्ली। चीन भले ही भारत के बेहतर रिश्तों का दम भरता हो लेकिन हकीकत में चीन की चालें नापाक पाकिस्तान से कुछ कम नहीं है। मौका मिलते ही ड्रैगन भी दबे पांव भारतीय सीमाओं में घुस रहा है। ITBP की ताजा रिपोर्ट तो यही खुलासा कर रही है। चीन एक-दो नहीं बल्कि तीन बार भारतीय सीमा में घुसा वो भी एक ही महीने में।

आरएसएस ने बनाई पाकिस्‍तान से दूरी, तीन दिवसीय संघ संवाद में 60 देशों को किया आमंत्रित

आजादी के जश्न का उठाया फायदा
चीन ने उत्तराखंड के बाराहोती के रास्ते देश की सीमा में घुसने का दुस्साहस किया है। 6 अगस्त, 14 अगस्त के अलावा जिस देश आजादी के जश्न में डुबा था, उस दिन का भी ड्रैगन ने फायदा उठाया और 15 अगस्त को चीन ने घुसपैठ की। इस दौरान चीन की सेना pla के सैनिक और कुछ सिविलियन, बाराहोती की रिमखिम पोस्ट के नज़दीक दिखाई दिए।

भारतीय सीमा में 4 किलोमीटर तक की घुसपैठ
आईटीबीपी की रिपोर्ट के मुताबिक चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमा में चार किलोमीटर तक घुसपैठ की। आईटीबीपी के कड़े विरोध के बाद चीन के सैनिक और उनके नागरिक वापस गए थे।

अगस्त में डोकलाम को हुआ एक साल
आपको बता दें चीन की डोकलाम के रास्ते भारत में घुसपैठ की कोशिश को भी अगस्त में ही एक साल पूरा हुआ है। दरअसल भारत और चीन के बीच लगभग 3.5 हजार किलोमीटर की एलओसी के बीच कई जगहें ऐसी हैं जहां सीमा रेखा को लेकर दोनों देशों के बीच एक राय नहीं है। इस वजह से अक्सर भारतीय सीमा में चीनी सैनिकों के घुसपैठ की खबरें आती रहती हैं। चीन इन क्षेत्रों को अपना हिस्सा मानता है और घुसपैठ की बात से इंकार करता है।

मौसम विभाग का अलर्टः दिल्ली-उत्तराखंड समेत कई राज्यों में अगले 24 घंटे मानसून रहेगा मेहरबान
16 जून 2017 को इस खबर से कि चीन भारत-भूटान और चीन की सीमा से लगे डोकलाम एरिया में सड़क बना रहा, भारतीय सुरक्षा हलके में जबरदस्त हलचल मच गई। भारतीय सेना ने चीनी सेना के इस निर्माण कार्य को रोक दिया और दोनों देशों की सेनाएं एक दूसरे के आमने सामने खड़ी हो गई।

72 दिन आमने-सामने थी सेनाएं
डोकलाम विवाद के चलते 72 दिनों के लिए भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने थीं। हालांकि, इस विवाद को सुलझा लिया गया था लेकिन इस दौरान माहौल पूरी तरह से गर्म था। दोनों देशों की सरकारें लगातार बॉर्डर पर शांति की बातें कहती रही हैं, हालांकि ज़मीन पर तस्वीर कुछ और ही नज़र आती है।

Updated On:
12 Sep 2018, 09:40:39 AM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।