वायुसेना प्रमुख धनोआ का खुलासा- हमारे पास नहीं पर्याप्त हथियार, रफाल पर टिकी आस

By: Mohit sharma

Published On:
Sep, 12 2018 11:43 AM IST

  • वायुसेना प्रमुख ने ताजा हालातों की जानकारी देते हुए कि मौजूदा समय में हमारे पास कुल 31 दस्ते हैं, जबकि जरूरत 42 दस्तों की होती है।

नई दिल्ली। रफाल डील पर सियासी घमासान के बीच भारतीय वायुसेना का बड़ा बयान है। ऐसा पहली बार है जब रफाल डील मामले में वायुसेना का आधिकारिक बयान आया। वायुसेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल बीएस धनोआ ने रफाल डील पर मोदी सरकार का समर्थन किया है। उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार आज जो रफाल लड़ाकू विमान मुहैया करवा रही है, उनसे हम आज की मुश्किलों का अच्छे से मुकाबला कर पाएंगे। आपको बता दें कि मुख्य विपक्ष दल कांग्रेस रफाल डील पर केंद्र की मोदी सरकार को घेरने में जुटी है। इसको लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर देश से झूठ बोलने और भष्टाचार का आरोप लगाया है।

केरल: नन का खुलासा, आरोपी बिशप दो साल से कर रहा था यौन शोषण

 

दरअसल, वायुसेना प्रमुख बुधवार को दिल्ली में एक आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि आज ऐसे बहुत कम देश हैं, जो हमारी जैसी परेशानियों का सामना कर रहे हैं। उन्होंने चीन और पाकिस्तान की ओर इशारा करते हुए कहा कि हमारे दोनों तरफ परमाणु संपन्न देश हैं। वायुसेना प्रमुख ने ताजा हालातों की जानकारी देते हुए कि मौजूदा समय में हमारे पास कुल 31 दस्ते हैं, जबकि जरूरत 42 दस्तों की होती है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर हमारे पास 42 दस्तें भी होते हैं तो भी दोनों तरफ का युद्ध लड़ना सरल नहीं होगा। धनोआ से साफ कहा कि आज हम कई तरह के हथियारों की कमी से जूझ रहे हैं। यही वजह है कि हमारे पड़ोसी हमसे मजबूत स्थिति में नजर आते हैं।

जेएनयू चुनाव: अध्यक्षीय परिचर्चा पर टिकी सबकी नजर, एजेंडे में फीस बढ़ोतरी और छात्रवृत्ति जैसे अहम मामले



आपको बता दें कि पिछले दिनों भारतीय वायुसेना के वाइस चीफ एयर मार्शल शिरीष बाबन देव ने कहा था कि आईएएफ सुंदर और सक्षम राफेल लड़ाकू विमान का इंतजार कर रही है। वायुसेना के वाइस चीफ नेएक कार्यक्रम से अलग संवाददाताओं से बातचीत में कहा था कि जो लोग विमान के खिलाफ बोल रहे हैं, उन्हें फ्रांस की दसां एविएशन द्वारा विनिर्मित इस उन्नत विमान के बारे में जानकारी नहीं है। देव के अनुसार "वास्तव में मुझे टिप्पणी नहीं करनी चाहिए, लेकिन मैं आप से कह सकता हूं..ये सभी चर्चा और राफेल के बारे में जो भी बातें कही जा रही हैं, ये सब इसलिए क्योंकि हमें इस बारे में ढेर सारी जानकारी है कि सबकुछ कैसे हुआ। हमें लगता है कि लोगों को जानकारी नहीं है।

Published On:
Sep, 12 2018 11:43 AM IST

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।