SC-ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ बिगुल फूंकने वाले देवकीनंदन ठाकुर को जान से मारने की धमकी पर उबाल

Iftekhar Ahmed

Publish: Sep, 12 2018 09:01:01 PM (IST)

सवर्ण सभा ने धमकी देने वाले भीम आर्मी के बारे में कहा कि यह संगठन एक आतंकी संगठन की तरह देश को खोखला कर रहा है

मेरठ. कथा वाचक देवकीनंदन ठाकुर की गिरफ्तारी के बाद गर्माया मामला अभी शांत होता नहीं दिख रहा है। SC-ST एक्ट में संशोधन के खिलाफ बिगुल फूंकने वाले देवकीनंदन ठाकुर को भीम आर्मी के एक सदस्य द्वारा जान से मारने की धमकी का वीडियो वायरल होने के बाद सवर्ण संरक्षण सभा देवकीनंदन के समर्थन में उतर आई है। सवर्ण संरक्षण सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अभिषेक गहलौत ने कहा कि वायरल वीडियो में जो व्यक्ति अपने आप को भीम आर्मी का सदस्य बताकर देवकीनंदन ठाकुर को मारने की धमकी दे रहा है। उस पर भीम आर्मी की चुप्पी इस बात की ओर इशारा कर रही है कि व्यक्ति भीम आर्मी से जुड़ा हुआ है। अगर वह भीम आर्मी से नहीं जुड़ा तो भीम आर्मी उसकी निंदा करे। उन्होंने कहा कि भीम आर्मी द्वारा देवकीनन्दन ठाकुर को जान से मारने की धमकी देने वालों पर सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि भीम आर्मी एक आतंकी संगठन की तरह देश को खोखला कर रहा है, क्योंकि सम्पूर्ण सवर्ण समाज देवकीनन्दन के साथ है। उन्होंने कहा कि ऐसे विवादित बयानों से देश का माहौल खराब होने की स्थिति पैदा हो सकती है, जिसके चलते धमकी देने वालों पर रासुका लगनी चाहिए।

यह भी पढ़ें- इन मुस्लिम नेताओं पर योगी सरकार ने कसा शिकंजा, इनके इस प्लांट पर की गई छापेमार कार्रवाई

पाकिस्तान की तर्ज हो भारत में हो रही बयानबाजी
सवर्ण संरक्षण सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अभिषेक गहलौत ने कहा कि भारत में पाकिस्तान की तर्ज पर ऐसे बयान देना घोर निंदनीय है, जिसकी हम और हमारा सम्पूर्ण समाज कड़ी निंदा करता है। हमारा सांगठन पूर्ण रूप से देवकीनन्दन के साथ है। उन्होंने कहा कि भीम आर्मी के लोग देश में विघटन पैदा कर रहे हैं। भीमआर्मी के सदस्य इस तरह के बयान देकर मीडिया की सुर्खिया बटोरने का काम कर रहा है। समाज में इस तरह के बयानों से लोगों में गलत संदेश जाता है। उन्होंने कहा कि भीम आर्मी देवकीनंदन ठाकुर की तरफ आंख उठाकर भी नहीं देख सकती। सवर्ण संरक्षण सभा उन्हें पूर्ण सुरक्षा मुहैया कराएगी।

More Videos

Web Title "Sawarn sabha criticises Bhim Armi leaders death threat to Devkinandan"