आलकी के पालकी जय कन्हैयालाल की जयघोष की रही गुंज

By: Nilesh Trivedi

Updated On:
24 Aug 2019, 03:40:33 PM IST

  • आलकी के पालकी जय कन्हैयालाल की जयघोष की रही गुंज


मंदसौर.
जिलेभर के कृष्ण मंदिरों सहित अन्य मंदिरों में शुक्रवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम रही। मंदिरों के पट सुबह ४ बजे से ही खुल गए। दिनभर पूजा-अर्चना व भजन-कीर्तन का दौर चलता रहा। हर और श्रीकृष्ण की भक्ति के गीतों की गुंज रही। कृष्णमय माहौल में हर किसी ने भगवान के जन्म की खुशिया मनाई। जन्माष्टमी को लेकर श्ुाक्रवार को हर और कृष्ण भक्ति का दौर छाया। दिनभर के बाद शाम को मंदिरों पर अधिक भीड़ रही। शहर के साथ जिले में शुक्रवार को नंद के घर आंनद भयो जय हो कान्हा लाल की, आलकी के पालकी जय कन्हैयालाल की, श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारी, हे नाथ नारायण वासुदेवाय के जयकारों के साथ भजनों की गुंज रही। कृष्ण मंदिरों में फूलों से साज-सज्जा की गई। रात्रि में मंदिर विद्युत रोशनी से जगमगाते रहे। जिले में कहीं मटकी फोड़ प्रतियोगिता तो कहीं शोभायात्राएं निकाली गई। शहर में ग्वाला गवली समाज और विश्व ***** परिषद ने चल समारोह निकाला तो रात को मटकी फोड़ स्पर्धा हुई। वहीं जिले में कई जगहों पर मटकी फोड़ स्पर्धाओं के आयोजन हुए। इस बार दो दिन जन्माष्टमी मनाई गई। शुक्रवार के अलावा शनिवार को ीाी शहर व जिले में कई जगहों पर जन्माष्टमी मनाई जाएगी।

गांधीचौराहें पर गल्यिाखेड़ी के युवाओं ने फोड़ी मटकी
फोटो एमएन २४१९/२४२० गांधीचौराहें पर मटकी फोड़ते हुए युवा।
मंदसौर.
विश्व परिषद द्वारा गांधी चौराहें पर शाम को मटकी फोड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें करीब २५ से ३० फीट की ऊंचाई तक बांधी गई मटकी गोविंदाओं की टोली ने फोड़ी। गल्यिाखेड़ी के युवाओं ने मटकी फोड़ी। इसमें योगेश माली गोविंदा के रुप में बनाए गए पिरामिड में सबसे ऊपर था। मटकी फोड़ स्पर्घा के दौरान चौथे प्रयास मे ही मटकी फोड़ दी गई। इसके पहले विहिप की धर्मसभा हुई। इसमें अतिथियों द्वारा श्रीराम, भारतमाता और लड्डू गोपाल के चित्र पर दीप प्रज्जवलित करते हुए माल्यार्पण किया। धर्मसभा में दिगंबर जैन मुनि सर्वांथसागर, संत जगदीशदास मुरारी बापू,, जिलाध्यक्ष प्रदीप चौधरी के साथ ही विहिप के अन्य पदाधिकारियों के साथ कार्यकर्ता मौजूद थे। कार्यक्रम के दौरान पदाधिकारियों ने अखाड़ो के उस्तादों का सम्मान किया। इसके बाद मटकी फोड़ स्पर्धा का आयोजन हुआ था।

Updated On:
24 Aug 2019, 03:40:33 PM IST

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।