राष्ट्रगान गाने का विरोध करने वाले मौलाना की पैरवी करने पर कोर्ट में बवाल, जमकर तोड़फोड़

कोर्ट में बवाल

महाराजगंज. सिविल कोर्ट परिसर में गुरुवार की सुबह जमकर बवाल हुआ। बवाल की कारण राष्ट्रद्रोह के आरोपी एक मौलाना की पैरवी करना बताया जा रहा है। आक्रोशित अधिवक्ताओं ने एकजुट होकर मौलाना की पैरवी करने वाले वकील मनोज सिंह के तख्त, झोपड़ी व कुर्सी को तोड़ दिया। इस दौरान पूरे कोर्ट परिसर में करीब एक घंटे तक अफरा-तफरी मची रही। कोर्ट में विवाद की सूचना पर पुलिस फोर्स पहुंच गई और हंगामे व विवाद को शांत कराया।

बताया जा रहा है महाराजगंज सिविल कोर्ट के अधिवक्ताओं ने कुछ दिन पूर्व बैठक कर यह निर्णय लिया था कि 15 अगस्त को कोल्हुई थाना क्षेत्र के बडगों गांव के मदरसे में राष्ट्रगान गाने का विरोध करने वाले जेल में बंद मौलाना व आरोपियों के लिए कोई भी वकील न्यायिक सहायता नहीं देगा। गुरुवार को जैसे ही कुछ अधिवक्ताओं को यह पता चला कि मनोज सिंह नामक वकील मौलाना व अन्य आरोपियों की जमानत की गुजारिश डालने की तैयारी में है, तभी कुछ वकील आक्रोशित हो गये और अधिवक्ता मनोज सिंह के तख्ते पर पहुंचकर हंगामा किया तथा तोड़फोड़ की।

इस मामले में अधिवक्ता मनोज सिंह की तरफ से कोई शिकायत नहीं दी गई है, दूसरी ओर दीवानी अदालत के अधिवक्ताओं ने वार कौंसिल से वकील मनोज सिंह का पंजीयन रद्द करने का प्रस्ताव पारित किया है।

 

BY- Yashoda Srivastava

Web Title "Uproar in civil Court after Maluna sedition case plead"

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।