अंधे हत्याकाण्ड का हुआ खुलसा, तीन आरोपियों सहित आलाकत्ल बरामद, शौक के लिए बने हत्यारे

By: Mahendra Pratap Singh

Updated On: Sep, 12 2018 04:46 PM IST

  • पूर्व क्रेशर मुनीम की सरेशाम बाइक सवार हत्या किए जाने के मामले में महोबा पुलिस को बड़ी कामयाबी हांथ लगी है।

महोबा. जनपद में एक पखवाड़ा पूर्व क्रेशर मुनीम की सरेशाम बाइक सवार हत्या किए जाने के मामले में महोबा पुलिस को बड़ी कामयाबी हांथ लगी है। लूट के इरादे से की गई हत्या के तीनों आरोपियों को आलाकत्ल के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। इस हत्याकांड का खुलासा सर्विलांस, स्वाट टीम की मदद से कबरई पुलिस ने किया है। टीम का मनोबल बढ़ाने के लिए एसपी द्वारा पांच हजार रुपए का इनाम दिया गया। पकड़े गए सभी आरोपियों का पुराना आपराधिक इतिहास है।

ये है पूरा मामला

महोबा में नए एसपी के आते ही एक के बाद एक घटित वारदातों से जिले की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े हो गए थे। पंद्रह दिन पूर्व 28 अगस्त को कबरई थाना क्षेत्र में संचालित प्रेम क्रेशर हरिराम शुक्ला की बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड को लेकर पुलिस के सामने अनसुलझी तमाम पहेलिया खड़ी थी लेकिन पुलिस हत्या कांड के खुलाशे के लिए हवा में हांथ पैर चला रही थी। बीती शाम पुलिस को उस समय बड़ी कामयाबी हांथ लग गई जब वीरेंद्र अनुरागी नामक एक युवक का नाम झंबीन मे सामने आ गया।

दरअसल मृतक क्रेशर मुनीम जिस क्रेशर प्लांट में काम करता था वहीं हत्या आरोपी भी पूर्व में काम कर चुके हैं। तभी से सभी आरोपी मुनीम से बड़ी लूट करने के इरादे से षडयंत्र रच रहे थे। वीरेंद्र ने अपने साथी तेजकुमार और मूलचंद्र कुशवाहा के साथ मिलकर 28 तारीख को लूट के इरादे से क्रेशर मुनीम हरिराम शुक्ला को गोली मार दी थी। जिसकी उसके इलाज के दौरान मौत हो गई।

हत्याकांड के खुलासे के लिए गठित टीम

आज अंधे हत्या कांड का खुलासा करते हुए एस पी कुंवर अनुपम सिंह बताया कि इस हत्याकांड के खुलासे के लिए गठित टीम ने बीती शाम मुखबिर की सूचना और सर्वलाइन्स और स्वाट टीम की मदद के जरिये कबरई पुलिस ने सभी आरोपियों को हीरादेवी डिग्री कॉलेज के पास से घेराबंदी कर गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के पास से आलाकत्ल 315 बोर के तीन तमंचे सहित 10 जिंदा कारतूस भी बरामद किए है पुलिस पूछताछ में सभी आरोपियों ने अपना जुल्म कबूल कर लिया। पकड़े गए हत्या आरोपियों में एक 18 साल का युवक भी शामिल है धन कमाने की चाह में तीनो आरोपियों ने हत्या की वारदात को अंजाम दे डाला था पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ धारा 302 के तहत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

Published On:
Sep, 12 2018 04:46 PM IST