टीईटी परीक्षा की तारीख में बदलाव से लेकर यूपी बोर्ड तक ये खबरें

Mahendra Pratap

Publish: Sep, 12 2018 05:01:57 PM (IST)

टीईटी परीक्षा की तारीख इस वजह से बढ़ाई गई है आगे

लखनऊ. अध्यापक पात्रता परीक्षा की तारीख आगे बढ़ा कर 4 नवंबर कर दी गई है। वहीं यूपी बोर्ड परीक्षा में इस बार दस फीसदी कम अभ्यर्थियों के पंजीकृत होने से परीक्षा केंद्रों की संख्या भी कम रखी गई है। परिवहन राज्य मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि 2022 तक हर गांव को रोडवेज बस कनेक्टिविटी से जोड़ा जाएगा। एसएससी परीक्षा में श्रेणीवार न्यूनतम अंकों की बाध्यता लागू कर दी गई है।

चार नवम्बर को होगी टीईटी परीक्षा

लखनऊ. अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) अब 4 नवंबर को होगी। यह परीक्षा पहले 30 अक्टूबर को आयोजित होने वाली थी लेकिन 68500 शिक्षक भर्ती परीक्षा के रिजल्ट में गड़बड़ी होने की वजह से तारीख आगे बढ़ा दी गई है। मंगलवार 10 सितम्बर को हुई बैठक में तय किया गया था कि टीईटी परीक्षा का तारीख आगे बढ़ा देनी चाहिए क्योंकि आवेदन लेने की तैयारियां अभी तक पूरी नहीं हो पाई हैं।

2022 तक हर गांव को रोडवेज बस से जोड़ा जाएगा

लखनऊ. परिवहन राज्य मंत्री स्वतंत्र देव सिंह ने 2022 तक हर गांव को रोडवेज बसों से जोड़ा जाएगा। साथ ही 21 नए बस टर्मिनल भी प्रदेश को मिलेंगे। उन्होंने बताया कि 38 हजार गांव ऐसे हैं जो रोडवेज बस की कनेक्ट्विटी से वंचित नहीं हैं। 10 हजार गांव तक इस सुविधा को पहुंचाया गया है। बाकी बचे गांव 2022 तक बस सुविधा से जुड़ जाएंगे। इसके लिए अफसरों को निर्देश दिए गए हैं कि अनुबंधित और परमिट बसों से समय सीमा तक इस लक्ष्य को पूरा करें।

एसएससी परीक्षा में श्रेणीवार न्यूनतम अंक की बाध्यता लागू

इलाहाबाद. एसएससी के सेलेक्शन पोस्ट के छठवें चरण की भर्ती में होने वाली कम्प्यूटर आधारित परीक्षा में श्रेणीवार न्यूनतम अंक लागू कर दिया गया है। सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थियों के लिए 35, ओबीसी अभ्यर्थियों के लिए 30 और एससी-एसटी अभ्यर्थियों के लिए 25 प्रतिशत अंक लाने की अनिवार्यता है। परीक्षा में 200 नंबर के 100 प्रश्न पूछे जाएंगे। गलत उत्तर पर माइनस मार्किंग भी होगी। हर गलत उत्तर पर 0.50 अंक की कटौती की जाएगी।

ट्रेनों में छेड़छाड़ रोकने के लिए एंटी ईव टीजिंग स्क्वॉड

लखनऊ. ट्रेनों में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ रोकने और उनकी सुरक्षा के लिए जीआरपी ने एंटी ईव टीजिंग स्क्वॉड तैयार किया है। इसके तहत ट्रेनों में छेड़छाड़ करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। ट्रेनों में छेड़छा़ड़ को रोकने के लिए व्यापक स्तर पर अभियान चलाया जाएगा। इसमें सभी जिलों के थाना प्रभारी अपनी टीम के साथ ट्रेनों में निरीक्षण करेंगे। इसके लिए एडीजी रेलवे के निर्देश पर एसपी रेलवे लखनऊ ने मंडल के सारे थाना प्रभारियों को निर्देश जारी किया है।

इस बार कम होंगे यूपी बोर्ड के परीक्षा केंद्र

लखनऊ. राजधानी लखनऊ में इस बार पिछली बार की अपेक्षा यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए करीब 20 परीक्षा केंद्र कम बनाए जाएंगे। पिछली बार बोर्ड परीक्षाओं में करीब एक लाख पांच हजार अभ्यर्थी पंजीकृत थे। इस दौरान 137 परीक्षा केंद्र शहर में बनाए गए थे। लेकिन इस बार परीक्षा केंद्रों की संख्या कम की जाएगी। इस बार 115 से 120 के बीच परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। वहीं नकल पर शिकंजा कसने के लिए हर एक कमरे में सीसीटीवी कैमरा लगाया जाएगा।

More Videos

Web Title "Uttar pradesh news from change in tet exam upto up board exam"