Hartalika Teej 2018 : हरतालिका तीज कब है, जानिए व्रत पूजा विधि, शुभ मुहूर्त और महत्व

By: Mahendra Pratap

|

Updated: 12 Sep 2018, 04:24 PM IST

Lucknow, Uttar Pradesh, India

Neeraj Patel

लखनऊ. hartalika teej Vrat भाद्रपद की शुक्ल पक्ष की तृतीया के दिन रखा जाता है। पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रों में हिन्दू धर्म में सभी महिलाएं अपने पति की लम्बी आयु के लिए हरतालिका तीज व्रत रखती है। लखनऊ निवासी ज्योतिषाचार्य ने बताया है कि ऐसा माना जाता है कि हरतालिका तीज व्रत सबसे पहले माता पार्वती ने भगवान शिव के लिए रखा था। इस व्रत में भगवान शिव और पार्वती के विवाह की कथा सुनने का बहुत अधिक महत्व है। इसलिए सभी महिलएं हरतालिका तीज व्रत करके अपने पति की आयु लम्बी आयु की कामना करती हैं।

हरतालिका तीज कब है

इस साल 2018 में हरतालिका तीज 12 सितंबर दिन बुधवार को मनाई जाएगी और इसका शुभ मुहूर्त 10:15 से 12:40 बजे तक है।

हरतालिका तीज व्रत सभी महिलाएं 12 सितंबर दिन बुधवार को रखेंगी। अगर यह हरतालिका तीज व्रत कुंवारी लड़कियां रखती है तो उनकी इस व्रत से सारी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है। महिलाएं द्वारा रखा गया हरतालिका तीज व्रत उनकी पति की लम्बी आयु के लिए बुहत ही शुभ माना गया है। हरतालिका तीज व्रत अगर पूरे विधि विधान और साफ दिल से रखा जाए तो जल्दी ही महिलाओं की सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती है।

हरतालिका तीज पूजा विधि

1. सबसे पहले महिलाओं को सुबह जल्दी उठकर स्नान करके निवृत्त होकर शिव और पार्वती की मूर्तियों को मिट्टी से बनाकर स्थापित करें।
2. शिव और पार्वती की मूर्तियों की पूजा शुरू करने के साथ ही सबसे पहले श्री गणेश पूजन करें।
3. गणेश पूजन के करने के बाद शिव-पार्वती पूजा करें।
4. पूजन के बाद पुष्प चढ़ाकर आरती करें और अंत में हरतालिका तीज व्रत कथा करें।
5. इसके बाद तीज व्रत का पालन करने का संकल्प लें और पूरे दिन निर्जला व्रत रखें।
6. हरतालिका तीज के अगले दिन की सुबह तक जागरण करें और ओम नम: शिवाय का जाप करें।
7. हरतालिका तीज के अगले दिन सुबह व्रत का पारण करें।

हरतालिका तीज का महत्व

हिन्दू धर्म में हरतालिका तीज व्रत का महत्व बहुत अधिक माना जाता हैं। महिलाओं द्वारा उनके पति की लम्बी आयु के लिए इस व्रत का रखा जाता हैं। हरतालिका तीज कोई एक त्यौहार नहीं बल्कि एक व्रत हैं जिसमें भगवान शिव और पार्वती की पूजा की जाती हैं। हिन्दू धर्म में हरतालिका तीज व्रत रखने की परम्परा कई वर्षों से चली आ रही है। इसलिए आज के समय में महिलाएं पति की लम्बी आयु के लिए हरतालिका तीज व्रत रखती है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।